उत्तराखंड क्रांति दल का सूपड़ा साफ़... SP, AAP का खाता भर खुला

News18 Uttarakhand
Updated: November 21, 2018, 7:29 PM IST
उत्तराखंड क्रांति दल का सूपड़ा साफ़... SP, AAP का खाता भर खुला
पहाड़ के मुद्दों पर राजनीति करने वाली राज्य की सबसे पुरानी क्षेत्रीय पार्टी उत्तराखंड क्रांति दल निकाय चुनाव में धूल फांकती दिखी.

देहरादून से यूकेडी के मेयर प्रत्याशी विजय कुमार बौड़ाई कहते हैं कि पार्टी का संगठन बीजेपी-कांग्रेस जितना मजबूत नहीं है और इसी की कीमत इसे चुकानी पड़ रही है.

  • Share this:
राज्य में हुए नगर निकाय चुनाव में वोटर्स ने राज्य की सबसे पुरानी रीजनल पार्टी उत्तराखंड क्रांति दल को पूरी तरह से ख़ारिज कर दिया है. पार्टी के खाते में हल्द्वानी में सिर्फ एक पार्षद आया. प्रदेश के बाकी निकायों में पार्टी अपनी ज़मानत भी नही बचा पाई. विधानसभा चुनाव के बाद पार्टी के लिए यह दूसरा सबसे बड़ा झटका है. वहीं सपा और बसपा भी निकाय चुनावों में कोई खास धमाल नहीं कर पाईं.

पहाड़ के मुद्दों पर राजनीति करने वाली राज्य की सबसे पुरानी क्षेत्रीय पार्टी उत्तराखंड क्रांति दल निकाय चुनाव में धूल फांकती दिखी. जिस गैरसैंण के मुद्दे पर यूकेडी मुखर रही है वहां कांग्रेस ने जीत दर्ज की. सिर्फ हल्द्वानी नगर निगम में पार्टी के रवि बाल्मीकि पार्षद की एक सीट निकाल पाए. इसके अलावा देहरादून, नैनीताल समेत कई शहरों में पार्टी का डब्बा गोल हो गया.

पार्टी के नेता कहते हैं कि जनता तो यूकेडी को जिताना चाहती है लेकिन पार्टी ही नहीं उठ पा रही. विजय कुमार बौड़ाई देहरादून से यूकेडी के मेयर प्रत्याशी थे. वह कहते हैं कि पार्टी का संगठन बीजेपी-कांग्रेस जितना मजबूत नहीं है और इसी की कीमत इसे चुकानी पड़ रही है.

यूकेडी की तरह समाजवादी पार्टी का भी बुरा हाल है. एसपी का ऊधम सिंह नगर में सिर्फ एक सभासद जीता है. बाकी जगह उसका कोई नामलेवा नहीं रहा. बहुजन समाज पार्टी का प्रदर्शन सपा के मुकाबले थोड़ा ठीक रहा. बसपा ऊधम सिंह नगर और हरिद्वार ज़िले में चार सभासद और उत्तर प्रदेश से लगी जसपुर नगर पालिका जीतने में कामयाब रही.

अरविन्द केजरीवाल की पार्टी आप ने भी नगर निकाय चुनाव लड़ा पर हरिद्वार में 2 सभासद छोड़कर पार्टी को कोई जीत हासिल नहीं हुई. बहरहाल 2017 में विधानसभा चुनाव के बाद नगर निकाय चुनाव के नतीजे इस बात की तस्दीक करते हैं कि उत्तराखंड की राजनीति में कांग्रेस, भाजपा के अलावा किसी और दल के लिए जगह नहीं है.

निर्दलीयों से पिटी बीजेपी, कांग्रेस गा रहीं एक ही गाना... अपने ही हैं निर्दलीय भी

OPINION: निकाय चुनाव- थमने लगी है बीजेपी की आंधी, कांग्रेस भी नहीं जमा पाई पैर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 21, 2018, 7:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...