उत्तराखंड: अचानक बिगड़ी नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश की तबीयत, अस्पताल में हुईं भर्ती

नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश के बेटे सुमित हृदयेश 10 दिन पहले कोरोना पॉजीटिव आए थे. (फाइल फोटो)
नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश के बेटे सुमित हृदयेश 10 दिन पहले कोरोना पॉजीटिव आए थे. (फाइल फोटो)

नेता प्रतिपक्ष के बीमार होने की खबर जैसे ही सीएम त्रिवेंद्र रावत (CM Trivendra Rawat) को लगी उन्होंने इंदिरा से बात की. सीएम ने मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. सीपी भैसोड़ा को निर्देश दिए हैं कि नेता प्रतिपक्ष की सेहत का पूरा ध्यान रखा जाए.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड कांग्रेस (Uttarakhand Congress) की सबसे वरिष्ठ नेता और विधानसभा में नेता  प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश (Indira Hridayesh) का स्वास्थ्य खराब है, जिसके चलते उन्हें हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज के सुशीला तिवारी अस्पताल (Sushila Tiwari Hospital) में भर्ती किया गया है. इंदिरा को पिछले दो दिनों से बुखार की शिकायत थी. जिसके बाद उन्हें शुक्रवार को डॉक्टर की सलाह के बाद सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती किया गया, जहां डॉक्टरों ने उनका सीटी स्कैन किया. साथ ही कोरोना का रेपिड एंटीजन टेस्ट (Rapid Antigen Test) कराया, जिसमें उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है. हालांकि, कोरोना के एडवांस आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए भी नेता प्रतिपक्ष का सेंपल भेजा गया है. लेकिन सीटी स्कैन में चेस्ट इंफेक्शन की बात सामने आई है.

सुशीला तिवारी अस्पताल के एमएस और वरिष्ठ फिजीशियन डॉ. अरुण जोशी के मुताबिक, नेता प्रतिपक्ष के स्वास्थ्य का खयाल रखने के लिए पांच डॉक्टरों का पैनल बनाया गया है, जो उनका हर पल ध्यान रख रहा है. जोशी के मुताबिक, शुरुआती जांच में निमोनिया की पुष्टि हुई है. डॉक्टर उनके निमोनिया का ट्रीटमेंट कर रहे हैं. डॉ. जोशी के मुताबिक, फिलहाल नेता प्रतिपक्ष की हालत ठीक है और घबराने की बात नहीं है. इंदिरा को विधानसभा की कार्रवाई में हिस्सा लेने के लिए 19 सितंबर को राजधानी देहरादून जाना था, लेकिन फिलहाल उन्होंने अपना कार्यक्रम स्थगित कर दिया है.

सीएम त्रिवेंद्र ने ली खबर 
नेता प्रतिपक्ष के बीमार होने की खबर जैसे ही सीएम त्रिवेंद्र रावत को लगी उन्होंने इंदिरा से बात की. सीएम ने मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. सीपी भैसोड़ा को निर्देश दिए हैं कि नेता प्रतिपक्ष की सेहत का पूरा ध्यान रखा जाए.
बेटा आ चुका है कोरोना पॉजीटिव 


नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश के बेटे सुमित हृदयेश 10 दिन पहले कोरोना पॉजीटिव आए थे. हालांकि, अब वह पूरी तरह से फिट हैं. लेकिन इस बीच खुद बुधवार की रात इंदिरा को बुखार आ गया. जिससे उनके समर्थक और चाहने वाले घबराए हुए हैं, क्योंकि इंदिरा की उम्र 80 साल के करीब है और पहले से ही डाइबिटीज की दवाएं लेती हैं. फिलहाल रेपिड टेस्ट में रिपोर्ट निगेटिव आने से उनके समर्थक थोड़ा राहत महसूस कर रहे हैं, लेकिन आरटीपीसीआर टेस्ट का इंतजार है. बता दें कि नेता प्रतिपक्ष ने कोरोना के डर-भय वाले माहौल के बीच भी लोगों से मिलना नहीं छोड़ा. रोजाना सैकड़ों की संख्या में इंदिरा के घर फरियादियों का आना आम बात है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज