Uttarakhand Loksabha Election Results 2019: चौकीदार मोदी की लहर पर सवार बढ़ रही हैं महारानी माला राज्य लक्ष्मी शाह

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह को तगड़ा प्रतिद्वंद्वी माना जा रहा था लेकिन वह भी मोदी की आंधी का सामना नहीं कर पाए.

Rajesh Dobriyal | News18 Uttarakhand
Updated: May 23, 2019, 1:15 PM IST
Uttarakhand Loksabha Election Results 2019: चौकीदार मोदी की लहर पर सवार बढ़ रही हैं महारानी माला राज्य लक्ष्मी शाह
माला राज्य लक्ष्मी को टिहरी में पौने दो लाख वोटों की लीड मिल गई है.
Rajesh Dobriyal | News18 Uttarakhand
Updated: May 23, 2019, 1:15 PM IST
पर्यटन नगरी टिहरी में महारानी माला राज्य लक्ष्मी शाह एक बार फिर जीत की ओर बढ़ रही हैं. साफ़ है कि उत्तराखंड में मोदी मैजिक चल गया है क्योंकि दो बार की सासंद माला राज्य लक्ष्मी शाह ने पूरे चुनाव प्रचार के दौरान सिर्फ़ एक बार फिर से मोदी सरकार बनाने के नाम पर वोट मांगा था. हालांकि चकराता के विधायक और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में प्रीतम सिंह को तगड़ा प्रतिद्वंद्वी माना जा रहा था लेकिन अब तक हुई वोटों की गिनती से साफ़ नज़र आ रहा है कि प्रीतम सिंह भी मोदी की आंधी का सामना नहीं कर पाए.

उत्तराखंड के मतदाताओं में किसी मौजूदा सांसद को लेकर स्पष्ट नाराज़गी दिख रही थी तो वह थीं टिहरी सांसद माला राज्य लक्ष्मी शाह. लगातार दूसरी बार सांसद रहीं टिहरी की महारानी के पास गिनाने के लिए ऐसी कोई उपलब्धि नहीं है जिसे वह जनता के बीच रख सकें. जनता से दूर-दूर रहने वाली  माला राज्य लक्ष्मी शाह खुद भी जानती हैं कि उनके ख़िलाफ़ एंटी इनकमबेंसी फ़ैक्टर काम कर सकता है इसलिए वह मोदी लहर के सहारे हैं. पूरे प्रचार के दौरान माला अपने दो कार्यकाल पर बात करने के बजाय मोदी को प्रधानमंत्री बनाने के नाम पर वोट मांगती रहीं.



यह भी सच है कि उत्तराखंड में किसी राजपरिवार का नाम आज भी चलता है तो वह टिहरी का राजघराना ही  है. चुनावों में भी इस परिवार का दबदबा रहा है. 1952 में हुए देश के पहले आम चुनाव टिहरी की राजमाता कमलेंदुमति शाह ने यहां से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में जीत दर्ज की थी और उनके बेटे मानवेंद्र शाह आठ बार सांसद रहे.

लेकिन राजपरिवार यहां से हारा भी है और माला राज्य लक्ष्मी को इसका अहसास भी है. इसका असर उनके चुनाव प्रचार में भी दिखा जब कभी-कभार ही नज़र आने वाली महारानी वोट लिए सड़कों पर घूमती दिखीं और बहुत समझदारी के साथ नरेंद्र मोदी को एक बार फिर प्रधानमंत्री बनाने के लिए वोट मांगती रहीं.

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...