Home /News /uttarakhand /

भाजपा के 3 महारथियों के क्षेत्रों में नहीं चला मोदी मैजिक... भाजपा करेगी समीक्षा

भाजपा के 3 महारथियों के क्षेत्रों में नहीं चला मोदी मैजिक... भाजपा करेगी समीक्षा

उत्तराखंड की तीन सीटों के अलावा बीजेपी के सभी विधायकों की सीटों पर वोट 2017 के मुकाबले बढ़े हैं.

उत्तराखंड की तीन सीटों के अलावा बीजेपी के सभी विधायकों की सीटों पर वोट 2017 के मुकाबले बढ़े हैं.

बाकी सभी सीटों पर जहां भाजपा को 2017 के मुकाबले 20000 तक की लीड मिली है लेकि इन तीन धुरंधरों की सीटों पार्टी का जनाधार खिसकता जा रहा है.

लोकसभा के चुनाव के नतीजों से भाजपा नेता फूले नहीं समा रहे हैं, प्रतिद्वन्द्वी कांग्रेस से दोगुना वोट जो भाजपा को मिला है. लेकिन, विधानसभा की तीन सीटों पर भाजपा के लिए खतरे की घंटी बज रही है. खतरे की घंटी इसलिए क्योंकि इन तीन सीटों पर मोदी मैजिक के बावजूद भाजपा का ग्राफ पिछले चुनाव के मुकाबले गिरा है. तो क्या यहां के विधायकों की लोकप्रियता कम होती जा रही है?

उत्तराखंड के ‘रीजनल एस्पिरेशन्स’ को कौन देगा आवाज़, सिर्फ़ 0.21 वोट पाने वाली UKD तो नहीं

जिन तीन सीटों की हम बात कर रहे हैं वह हैं हरिद्वार की खानपुर और हरिद्वार ग्रामीण. हैरत में डालने वाली तीसरी सीट ऊधम सिंह नगर की बाजपुर है. बाजपुर से तो खुद कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य विधायक हैं. दूसरी तरफ खानपुर से बाहुबली कुंवर प्रणव सिंह चैम्पियन विधायक हैं, जो अपनी सीट को अभेद्य किला बताते रहे हैं. हरिद्वार ग्रामीण की सीट भी कम अहम नहीं है. हरीश रावत को हराकर भगवाधारी स्वामी यतीश्वरानन्द यहां से विधायक बने हैं.

kunwar pranab champion (2)
कुंवर प्रणव चैंपियन


राजनीति के कलाबाज कुंवर प्रणव चैम्पियन की हालत तो नाम बड़े और दर्शन छोटे वाली ही है. सबसे ज्यादा वोटों से भाजपा इन्हीं के क्षेत्र में पीछे रही है. हरिद्वार लोकसभा के तहत आने वाली उनकी विधानसभा खानपुर में भाजपा की हालत खराब होती जा रही है. इस लहर में भी विधानसभा के मुकाबले इस बार खानपुर में पार्टी को कम वोट मिले हैं. दो साल पहले 2017 में हुए विधानसभा चुनाव में चैम्पियन को 53.191 वोट मिले थे लेकिन इस लोकसभा के इस चुनाव में भाजपा को 48,397 वोट ही मिले. यानी 4795 वोट कम. प्रदेश की सभी 70 सीटों में भाजपा का ग्राफ इन्हीं के क्षेत्र में सबसे ज्यादा गिरा है.

Uttarakhand Loksabha Election Results 2019: जानिए कौन से मिथक तोड़े इस जनादेश ने

इसी तरह दूसरी वीआईपी सीट है बाजपुर की. यहां 2017 के विधानसभा चुनाव में कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य को 54,965 वोट मिले थे लेकिन इस बार मिले सिर्फ 51,866. यानि 3099 वोट कम. मंत्री रहते यशपाल आर्य के क्षेत्र में भाजपा का ग्राफ गिरना पार्टी के लिए चिन्ताजनक है.

yashpal arya (4)
यशपाल आर्य (फ़ाइल फ़ोटो)


हरिद्वार ग्रामीण की सीट भी कम अहम नहीं है. हरीश रावत को 2017 में हराकर स्वामी यतीश्वरानन्द यहां से विधायक बने थे. तब उन्हें 44,964 वोट मिले थे लेकिन, दुर्भाग्य ऐसा कि इस बार उनकी विधासनभा से भाजपा को 42,842 वोट ही मिले जो 2017 के मुकाबले 2122 वोट कम हैं.

Uttarakhand Election Results 2019: बीजेपी-कांग्रेस के अलावा नहीं बची किसी की जमानत

इस कड़ी में हरिद्वार जिले की झबरेड़ा सीट भी शामिल है. यहां भाजपा पीछे तो नहीं रही लेकिन, प्रदेश में जहां पार्टी को हर जगह बड़ी लीड मिली है वहीं झबरेडा में 2017 के विधानसभा के मुकाबले महज 5 वोट इस बार ज्यादा मिले हैं. यानी गिरते-पड़ते विधायक देशराज कर्णवाल ने लाज बचाई है. पिछले दो सालों में देशराज कर्णवाल ने भी कम चर्चाएं नहीं बटोरी हैं. लगता है कुंवर प्रणव चैम्पियन और देशराज कर्णवाल एक दूसरे से भिड़ने में ही व्यस्त हैं. पार्टी के जनाधार को बढ़ाना शायद अब उनके एजेण्डे में नहीं रहा.

mla yatishwaranand
स्वामी यतीश्वरानंद


प्रदेश की बाकी सभी सीटों पर जहां भाजपा को 2017 के मुकाबले 20000 तक की लीड मिली है वहीं इन तीन सीटों के धुरंधरों के क्षेत्र में पार्टी का जनाधार खिसकता जा रहा है. हैरत की बात तो ये है कि जो अपना घर नहीं सम्हाल पाए वह चुनाव के दौरान लोकसभा का टिकट पाने के लिए हाय तौबा मचाए हुए थे.

Uttarakhand Loksabha Election Results 2019: जानिए क्या फ़र्क है तीरथ-मनीष में

इस स्थिति पर बीजेपी ने समीक्षा करने की बात की है. पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता देवेंद्र भसीन कहते हैं कि किसी भी चुनाव के बार हर सीट की समीक्षा की ही जाती है. इन तीनों सीटों की भी होगी और वोट कम क्यों हुए, इस पर भी विचार किया जाएगा.

Uttarakhand Loksabha Election Results 2019: चुनावों में इसलिए हुआ कांग्रेस का बंटाधार

उत्तराखंड: कांग्रेस का दावा- 2022 में हम ही आएंगे, बीजेपी बोली- फिर करेंगे सूपड़ा साफ

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

Tags: Lok Sabha Election Result 2019, Uttarakhand BJP, Uttarakhand Lok Sabha Elections 2019, Uttarakhand news, Yashpal Arya

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर