Uttarakhand Loksabha Election Results 2019: उत्तराखंड में बढ़ी कमल की चमक, सभी सीटों पर जीत का मार्जिन बढ़ा
Dehradun News in Hindi

Uttarakhand Loksabha Election Results 2019: उत्तराखंड में बढ़ी कमल की चमक, सभी सीटों पर जीत का मार्जिन बढ़ा
राज्य भर से बीजेपी के जश्न की ख़बरें गुरुवार दोपहर बादद से ही आने लगी थीं.

उत्तराखंड में बीजेपी को 60.7 फ़ीसदी मत मिले, जो वर्ष 2014 के मुकाबले पांच फ़ीसदी अधिक हैं जबकि कांग्रेस का वोट शेयर तीन फ़ीसदी घटा है.

  • Share this:
उत्तराखंड की पांचों लोकसभा सीटों पर पांच साल पहले खिले कमल पर भगवा रंग की परत और परत चढ़ गई है यह और चमकने लगा है. मोदी मैजिक ने राज्य में अब तक का सबसे ज़्यादा मत प्रतिशत का रिकॉर्ड भी रच दिया है. उत्तराखंड में बीजेपी को 60.7 फ़ीसदी मत मिले, जो वर्ष 2014 के मुकाबले पांच फ़ीसदी अधिक हैं जबकि कांग्रेस का वोट शेयर तीन फ़ीसदी घटा है. नैनीताल सीट से भाजपा प्रत्याशी अजय भट्ट ने कांग्रेस प्रत्याशी हरीश रावत को सबसे ज़्यादा 3,39,096 वोटों से मात दी. पौड़ी गढ़वाल सीट पर तीरथ सिंह रावत ने 3,02,669 मतों से कांग्रेस प्रत्याशी मनीष खंडूड़ी को मात दी. टिहरी सीट पर राज्य लक्ष्मी शाह ने 3,00.586 वोटों से कांग्रेस प्रत्याशी प्रीतम सिंह को मात दी. हरिद्वार सीट से रमेश पोखरियाल निशंक ने 258729 वोट से जीत दर्ज की तो अल्मोड़ा सीट पर भाजपा के प्रत्याशी अजय टम्टा ने 2,32,986 वोटों से कांग्रेस प्रत्याशी प्रदीप टम्टा को हराया.

देवताओं ने सुन ली तीरथ सिंह रावत की प्रार्थना

एक नज़र इस पर कि किसको कितने वोट मिले हैं....

  • नैनीताल सीट पर भाजपा प्रत्याशी अजय भट्ट को 7,72,195 वोट और कांग्रेय प्रत्याशी हरीश रावत को 433,099 वोट मिले हैं.



  • पौड़ी सीट से भाजपा प्रत्याशी तीरथ सिंह रावत 5,06,980 वोट और कांग्रेस प्रत्याशी मनीष खंडूड़ी 2,04,311 वोट मिले हैं.

  • टिहरी सीट पर भाजपा प्रत्याशी माला राज्य लक्ष्मी शाह 5,65,333 और कांग्रेस प्रत्याशी प्रीतम सिंह 2,64,747 वोट मिले हैं.

  • हरिद्वार सीट पर भाजपा के प्रत्याशी रमेश पोखरियाल निशंक को 665674 वोट और कांग्रेस प्रत्याशी अंबरीष कुमार को 4,06,945 वोट मिले हैं.

  • अल्मोड़ा सीट पर भाजपा प्रत्याशी अजय टमटा 4,44,651 और कांग्रेस प्रत्याशी प्रदीप टम्टा 2,11,665 वोट मिले हैं.


Uttarakhand Loksabha Election Results 2019: चौकीदार मोदी की लहर पर सवार जीत की ओर बढ़ीं  महारानी माला राज्य लक्ष्मी शाह

भाजपा को दूसरी बड़ी जीत गढ़वाल में मिली. यहां पार्टी ने सांसद बीसी खंडूड़ी के चुनाव लड़ने से इनकार करने पर उनके राजनीतिक शिष्य तीरथ सिंह रावत पर विश्वास जताया. विधानसभा चुनाव में चौबट्टाखाल से तीरथ सिंह रावत का टिकट काटकर सतपाल महाराज को दिया गया था लेकिन तीरथ चुपचाप पार्टी के लिए काम करते रहे, इसी का इनाम उन्हें मिला. तीरथ के सामने उनके राजनीतिक गुरु बीसी खंडूड़ी के ही पुत्र मनीष खडूड़ी को कांग्रेस ने टिकट दिया था. गुरु शिष्य और गुरु पुत्र के बीच की इस जंग से बीसी खंडूड़ी दूर रहे, इसका नुकसान पुत्र मनीष को हुआ. सैनिकों और पूर्व सैनिकों की सर्वाधिक संख्या वाली सीट पौड़ी पर राष्ट्रवाद का मुद्दा सर्वाधिक हावी रहा.

Uttarakhand Loksabha Election Results 2019: जानिए क्यों ख़ास रहा पौड़ी का चुनाव, क्या फ़र्क है तीरथ-मनीष में

 

नैनीताल से पार्टी ने प्रदेश में अपने सबसे बड़े चेहरे हरीश रावत को उतारा. रावत पहले हरिद्वार से दावेदार थे, लेकिन अंतिम समय में भाजपा के नैनीताल से प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट को उतारा तो हरीश रावत ने जिद कर नैनीताल का टिकट ले लिया. कांग्रेस की प्रदेश में करारी हार के कारणों में बड़ी वजह हरीश रावत का नैनीताल पलायन भी माना जा रहा है. इससे दो ओर सीटों हरिद्वार और अल्मोड़ा का समीकरण बिगड़ गया.

नतीजा यह हुआ कि प्रदेश में सबसे बड़ी हार हरीश रावत को झेलनी पड़ी. उनके सारे गणित गड़बड़ा गए और करीब सवा तीन लाख मतों के अंतर से भट्ट ने उन्हें मात दी. भट्ट की लोकसभा चुनाव में पहली जीत का बड़ा कारण संगठन की पूरी ताकत झोंकने के साथ भगत सिंह कोश्यारी का साथ भी रहा.

Uttarakhand Loksabha Election Results 2019: अपनी-अपनी डफली बजाते रहे कांग्रेसी दिग्गज, पार्टी का हुआ बंटाधार

टिहरी में भाजपा प्रत्याशी माला राज्य लक्ष्मी शाह की जीत मोदी मैजिक की जीत है. माला के खिलाफ कांग्रेस प्रत्याशी और प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह रवाईं जौनसार में अपनी मजबूत पकड़ के बावजूद करीब तीन लाख वोटों से हारे.

हरिद्वार में सबसे कम पहचाने जाने वाले कांग्रेस नेता अंबरीश कुमार ने बीजेपी के दिग्गज रमेश पोखरियाल निशंक को कुछ मुकाबला दिया. बीएसपी प्रत्याशी ने यहां अच्छे-खासे वोट खींचे. भाजपा को राष्ट्रवाद के साथ हिंदुत्व का फायदा इस सीट पर मिला है. इसी के चलते निशंक ने पिछली बार के मुकाबले अपनी जीत के अंतर का रिकार्ड सुधार लिया.

Uttarakhand Loksabha Election Results 2019: जानिए कौन से मिथक तोड़े ऐतिहासिक जनादेश ने

अल्मोड़ा में भाजपा प्रत्याशी और केंद्रीय कपड़ा राज्य मंत्री अजय टम्टा के खिलाफ चुनावों की शुरुआत में सत्ता विरोधी लहर थी, लेकिन भाजपा की संगठनात्मक ताकत ने अजय को जीत दिलवा दी. हरीश रावत के नैनीताल से लड़ने के चलते कांग्रेस के अल्मोड़ा प्रत्याशी प्रदीप टम्टा को नुकसान पहुंचा. अल्मोड़ा हरीश की पुरानी सीट है, जिसके चलते नैनीताल में हरीश के पक्ष में प्रचार करने के लिए बड़ी संख्या में कांग्रेसी अल्मोड़ा से पहुंचे. इससे लगा कि प्रदीप टम्टा बीजेपी के संगठन का अकेले मुकाबला रह रहे हैं.

Uttarakhand Loksabha Election Results 2019: क्यों हारे कांग्रेस के दिग्गज, यहां जानिए पांच कारण

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज