COVID-19: बदमाशों को पकड़ने PPE किट पहनकर जाएगी पुलिस, ताकि कोरोना से हो बचाव
Dehradun News in Hindi

COVID-19: बदमाशों को पकड़ने PPE किट पहनकर जाएगी पुलिस, ताकि कोरोना से हो बचाव
पुलिस के जवानों को पीपीई किट पहनकर ड्यूटी करना पड़ रहा भारी

सरकार ने पुलिसवालों के लिए एक SOP तैयार की है, ताकि उन्हें संक्रमण का खतरा न हो. इसके तहत पुलिसवालों को अब कोरोना से बचाव के लिए PPE किट (Personal Protective Equipment) दिया जाएगा.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड में कोरोना वायरस (COVID-19) की रोकथाम के लिए यहां की पुलिस 24 घंटे काम कर रही है. ऐसे में पुलिसवालों को इस महामारी से बचाना बड़ी चुनौती है. वहीं, पुलिस को आपराधिक घटनाओं पर भी नजर रखनी पड़ती है, जिसके कारण उनको किसी भी समय कहीं भी जाने के लिए तैयार रहना पड़ता है. ऐसे में सरकार ने पुलिसवालों के लिए एक SOP तैयार की है, ताकि उन्हें संक्रमण का खतरा न हो. इसके तहत पुलिसवालों को अब कोरोना से बचाव के लिए PPE किट (Personal Protective Equipment) दिया जाएगा. पुलिसवाले अब किसी अपराधी को भी पकड़ने या घटनास्थल पर जाने के लिए किट पहनकर जाएंगे.

थाने और चौकियों में टीम तैयार

उत्तराखंड पुलिस के जवानों को कोरोना से बचाने के लिए जो SOP तैयार की गई है उसके तहत सभी थानों और चौकियों पर पुलिस की एक टीम तैयार की गई है. यह टीम किसी भी घटना या आपराधिक मामलों में सबसे पहले रिस्पॉन्ड करेगी. इस रिस्पॉन्स टीम के पास कोरोना से बचाव के लिए सभी सामान उपलब्ध होंगे. टीम के सदस्य खाकी वर्दी के साथ-साथ पीपीई किट भी पहनेंगे, ताकि कोरोना वायरस से संक्रमण का खतरा न रहे. इस टीम के सदस्यों को सोशल डिस्टेंसिंग प्रोटोकॉल का पालन करने को भी कहा गया है. देहरादून के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अरुण मोहन जोशी ने कहा कि SOP से जहां पुलिस को मदद मिलेगी, वहीं कोरोना से बचाव भी हो सकेगा. कोरोना से जंग में यह SOP पुलिस के लिए संजीवनी का काम करेगी.



फेस शील्ड भी दिए गए जवानों को



कोरोना से बचाव के लिए पुलिस के जवानों की सुरक्षा करने को सरकार गंभीर है. इसलिए पुलिसवालों को फेस शील्ड दी गई है. उन्हें ताकीद की गई है कि कहीं भी जाने पर किसी व्यक्ति से बातचीत करते हुए फेस शील्ड जरूर पहनें. साथ ही ट्रिपल लेयर मास्क, दस्ताने आदि का भी इस्तेमाल करने को कहा गया है. जवानों को यह भी निर्देश दिया गया है कि बुखार, खांसी या सांस लेने में परेशानी हो तो तुरंत इसकी सूचना दें. पुलिस के लिए बनाई गई SOP में कोरोना से बचाव के साथ-साथ आपराधिक घटनाओं पर नियंत्रण और लॉ एंड ऑर्डर बनाए रखने की ताकीद की गई है.

 

ये भी पढ़ें-

उत्तराखंडः सार्वजनिक जगहों पर थूका या कूड़ा फेंका तो 500 से 5000 रुपए तक लगेगा

Lockdown: दिल्ली से 67000 प्रवासी लौटे उत्तराखंड, 2.5 लाख ने किया था आवेदन
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading