Home /News /uttarakhand /

चार धाम यात्रा पर कोई रोक नहीं, मौसम सुधरते ही होगा मूवमेंट, गुजरात के सीएम ने दिया मदद का भरोसा

चार धाम यात्रा पर कोई रोक नहीं, मौसम सुधरते ही होगा मूवमेंट, गुजरात के सीएम ने दिया मदद का भरोसा

चार धाम यात्रा के लिए मूवमेंट मंगलवार शाम से शुरू हो सकता है.

चार धाम यात्रा के लिए मूवमेंट मंगलवार शाम से शुरू हो सकता है.

Heavy Rains in Uttarkahand : राज्य सरकार ने सतर्कता बरतने संबंधी अपील करने की बात करते हुए बताया कि यात्रा पर कोई रोक नहीं है लेकिन मौसम के लिहाज़ से श्रद्धालुओं को सावधानी और सुरक्षा के उपाय बरतने के लिए कहा गया है.

देहरादून. उत्तराखंड में तीर्थ यात्रियों के लिए बड़ी खबर यह है कि चार धाम यात्रा पर कोई रोक नहीं लगाई गई है. राज्य सरकार के आपदा प्रबंधन मंत्री धन सिंह रावत का बयान आया है कि उत्तराखंड में भारी बारिश के मौसम के चलते यात्रियों को सलाह दी गई है कि जोखिम न लें और सुरक्षित इलाकों में रहें. वहीं, बताया जा रहा है कि मौसम सही होने पर आज मंगलवार शाम से मूवमेंट शुरू हो सकता है. गढ़वाल अंचल के कई ज़िलों में आज मौसम ठीक होने के बाद यह बयान सामने आया है जबकि पिछले करीब 72 घंटों में भारी बारिश के बाद कई श्रद्धालुओं के फंसने, उन्हें रेस्क्यू किए जाने और सुरक्षित स्थानों पर रोके जाने की खबरें आ चुकी थीं.

चार धाम समेत कई तीर्थयात्रियों के फंसने के संबंध में ताज़ा अपडेट यह भी है कि गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी से बातचीत की. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक पटेल ने फोन पर हालात का जायज़ा लेने के बाद धामी से कहा कि प्राकृतिक आपदा और भारी बारिश के कारण फंसे तीर्थयात्रियों की मदद के लिए वह ज़रूरी मदद मुहैया करवाएंगे.

uttarakhand news, uttarakhand rain, weather news, char dham yatra, उत्तराखंड ताजा समाचार, उत्तराखंड में बारिश, मौसम समाचार

गुजरात के सीएम ने उत्तराखंड सीएम से फोन पर बातचीत की.

इससे पहले, उत्तराखंड के इस बयान से पहले एक वीडियो सामने आया था, जिसमें एसडीआरएफ और पुलिस ने सोमवार को भारी बारिश के कारण जंगल चट्टी में फंस गए करीब 22 श्रद्धालुओं को बचाया. वीडियो में केदारनाथ धाम से लौटने के दौरान जंगल चट्टी में फंसे श्रद्धालुओं को राहत दलों द्वारा गौरी कुंड में शिफ्ट किए जाते देखा गया था. इस दौरान एक अधेड़ श्रद्धालु की सेहत बिगड़ने पर उसे स्ट्रेचर पर लादकर शिफ्ट करवाने की तस्वीरें देखी गईं.

इन तस्वीरों और अपीलों के बाद इस तरह की अफवाहें फैल रही थीं कि चार धाम यात्रा रोक दी गई है, लेकिन इस पर उत्तराखंड ने स्पष्ट बयान दे दिया है. दूसरी तरफ, मौसम विभाग द्वारा आज मंगलवार के लिए भी भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया जा चुका था. इसके मद्देनज़र चारधाम यात्रियों को भी यात्रा पर जाते हुए सतर्क रहने की सलाह दी जा रही है. आपदा प्रबंधन मंत्री धन सिंह रावत के पिछले ​बयान के मुताबिक सोमवार तक बद्रीनाथ में 2000, केदारनाथ में 2700 के आसपास यात्रियों को हालात सामान्य होने तक रोका गया.

Tags: Char Dham Yatra, Heavy rain fall, Uttarakhand news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर