कोरोना से जंग : देहरादून के 50 पुलिसकर्मियों ने प्लाज्मा डोनेट करने की इच्छा जताई

देहरादून की पुलिसलाइन में मेडिकल कैंप लगाकर 50 पुलिसकर्मियों की एंटी बॉडी जांच की गई.

देहरादून की पुलिसलाइन में मेडिकल कैंप लगाकर 50 पुलिसकर्मियों की एंटी बॉडी जांच की गई.

देहरादून के पुलिसलाइन में मेडिकल की टीम ने इन सभी पुलिस के जवानों के एन्टी बॉडी टेस्ट किए. इस टेस्ट में जिन पुलिस जवानों की एंटीबॉडी पॉजिटिव पाई जाएगी, उनका डेटा तैयार किया जाएगा.

  • Share this:
देहरादून. कोरोना महामारी (corona epidemic) के बीच पुलिस के जवानों की एक और अच्छी पहल सामने आई है. जहां एक तरफ पुलिस के जवान कोरोना महामारी से जनता को दूर रखने के लिए 24 घंटे सड़कों पर तैनात हैं, वहीं दूसरी तरफ कोरोना संक्रमित (Corona Infected) लोगों की जान बचाने को पुलिस प्लाज्मा डोनेट (plasma donate) करने जा रही है.

पुलिसकर्मियों की एंटी बॉडी टेस्ट हुई

कोविड संक्रमित मरीजों की जान बचाने के लिए देहरादून जिले से 50 पुलिसकर्मियों और अधिकारियों ने प्लाज्मा दान करने की इच्छा जताई है. पुलिसलाइन में मेडिकल की टीम ने इन सभी पुलिस के जवानों के एन्टी बॉडी टेस्ट किए. इस टेस्ट में जिन पुलिस जवानों की एंटीबॉडी पॉजिटिव पाई जाएगी, उनका डेटा तैयार कर आनेवाले दिनों में जरूरतमंद कोविड पॉजिटिव लोगों को प्लाज्मा डोनेट किया जाएगा.

पुलिसकर्मियों ने खुद ही जताई इच्छा
दरअसल, कोरोना काल में ड्यूटी के दौरान कई पुलिज के जवान कोरोना संक्रमित भी हुए और उपचार के बाद ठीक होकर दोबारा अपनी ड्यूटी पर लौटे हैं. इस दौरान उनके स्वास्थ्य के संबंध में जानकारी ली गई. साथ ही अधिकारियों, कर्मचारियों को कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए बनी एसओपी के अनुसार खुद का बचाव करते हुए अपने कर्तव्यों का निवर्हन करने के निर्देश दिए दए. इस दौरान दून पुलिस के इन सभी जवानों ने कोरोना से पीड़ित लोगों की मदद के लिए स्वेच्छा से प्लाज्मा डोनेट करने की बात कही है.

24 घंटे हर मोर्चे पर तैनात

वैसे तो 24 घंटे ड्यूटी कर पुलिस के जवान जनता को कोरोना महामारी से दूर रखने के लिए फ्रंटलाइन पर खड़े हैं लेकिन प्लाज्मा डोनेट करने का पुलिस का यह प्रयास कुछ हद तक उन जरूरतमंदों की जान भी बचाएगा, जिन्हें कोविड संक्रमण की चपेट में आने के बाद प्लाज्मा की जरूरत है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज