लाइव टीवी

सैन्य धाम में हथियार बनाने की तैयारी... डिफेंस एक्विपमेंट इंडस्ट्री के लिए पॉलिसी बना रही सरकार

Deepankar Bhatt | News18 Uttarakhand
Updated: January 13, 2020, 2:34 PM IST
सैन्य धाम में हथियार बनाने की तैयारी... डिफेंस एक्विपमेंट इंडस्ट्री के लिए पॉलिसी बना रही सरकार
. उत्तराखंड में डिफेंस एक्विपमेंट इंडस्ट्री के लिए सरकार बकायदा पॉलिसी बना रही है ताकि युवाओं को रोज़गार देने के साथ इंटरनेशनल बॉर्डर सुरक्षित रहे. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

  • Share this:
देहरादून. देश की सेना में उत्तराखंड के बलिदान और योगदान के लिए प्रधानमंत्री ने उत्तराखंड को पांचवां धाम सैन्य धाम बताया था और अब प्रदेश के मुखिया यहां सेना के उपकरण और हथियारों के लिए इंडस्ट्री तैयार करने का प्लान बना रहे हैं. जी हां सही सुना आपने देशभक्ति के जज़्बे से ओत-प्रोत उ‌त्तराखंड में सेना के उपकरण और हथियार तैयार होंगे. उत्तराखंड में डिफेंस एक्विपमेंट इंडस्ट्री के लिए सरकार बकायदा पॉलिसी बना रही है ताकि युवाओं को रोज़गार देने के साथ इंटरनेशनल बॉर्डर सुरक्षित रहे.

CDS, NSA की अहम भूमिका 

सरकार के लिए डिफेंस एक्विपमेंट इंडस्ट्री पॉलिसी बनाने से जब इंडस्ट्री लगेंगी तो उनसे रोज़गार मिलेगा और चीन से सटा बॉर्डर सुरक्षित हो सकेगा. माना जा रहा है कि इसमें देश के CDS जनरल बिपिन रावत और NSA अजित डोभाल का अहम रोल हो सकता है.

सीएम त्रिवेंद्र रावत का फ़ोकस डिफेंस एक्विपमेंट इंडस्ट्री को जमाने का है और डबल इंजन की सरकार में इससे बढ़िया मौका नहीं हो सकता. देश की सुरक्षा से जुड़े उत्तराखंड के दो नाम इसमें बड़े काम के साबित हो सकते हैं. इनमें चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत और नेशनल सिक्योरिटी एडवाइज़र अजित डोभाल शामिल हैं.

बड़ा फ़ायदा होगा 

देश की सुरक्षा की ज़िम्मेदारी संभाल रहे सीडीएस और एनएसए दोनों उत्तराखंड के मुश्किल हालातों और चुनौतियों को ढंग से जानते हैं. रक्षा मामलों के जानकार कर्नल एनएस रावत कहते हैं कि सेना के उपकरण और हथियार बनाने का काम अगर उत्तराखंड में हुआ तो बड़ा फायदा होगा.

साल 2019-20 में केंद्र सरकार ने देश की सुरक्षा के लिए करीब 3 लाख करोड़ रुपए का बजट रखा था जिसका बड़ा हिस्सा सेना के उपकरणों और हथियारों की खरीद पर खर्च होता है. ऐसे में हर साल सेना को करीब 9,000 नए जवान देने वाले उत्तराखंड में डिफेंस इक्पिवेंट इंडस्ट्री खड़ा करना स्वाभाविक लगता है.यह भी देखें: 

उत्तराखंड में है राष्ट्रवाद और देशभक्ति की परंपरा, मैं से पहले देशभक्ति का भावः त्रिवेंद्र 

उत्तराखंड के फर्जी दस्तावेजों से सेना में भर्ती की कोशिश नाकाम, 10 गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 13, 2020, 2:32 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर