जब DNA रिपोर्ट में हुआ था खुलासा, एनडी तिवारी ही हैं रोहित शेखर के बायोलॉजिकल पिता

उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर का मंगलवार को दिल्ली के मैक्स अस्पताल में निधन हो गया.

News18 Uttarakhand
Updated: April 16, 2019, 8:40 PM IST
News18 Uttarakhand
Updated: April 16, 2019, 8:40 PM IST
उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर का मंगलवार को दिल्ली के मैक्स अस्पताल में निधन हो गया. नारायण दत्त तिवारी के बेटे कहलाने के लिए रोहित शेखर को लंबे समय तक कानूनी संघर्ष करना पड़ा था.

रोहित शेखर ने दावा किया था कि एनडी तिवारी उनके जैविक पिता हैं और इसे साबित करने के लिए उन्होंने साल 2008 में कोर्ट में मुकदमा दायर किया था, जिस पर कोर्ट ने डीएनए टेस्ट कराने का आदेश दिया था. पहले तो एनडी तिवारी ने डीएनए टेस्ट के लिए सैंपल देने से इनकार कर दिया था लेकिन बाद में इसके लिए तैयार हुए. साल 2012 में दिल्ली हाईकोर्ट ने तिवारी की डीएनए रिपोर्ट के रिजल्ट की घोषणा करते हुए कहा था कि नारायण दत्त तिवारी दिल्ली निवासी रोहित शेखर के बायोलॉजिकल पिता हैं.



इस मुकदमे के बाद ही एनडी तिवारी ने रोहित की मां उज्जवला तिवारी से 88 साल की उम्र में शादी की. दरअसल उज्जवला से एनडी तिवारी के पुराने प्रेम संबंध रहे, मगर उन्होंने शादी नहीं की थी. विवाद सुलझने के बाद उज्ज्वला एनडी तिवारी के लखनऊ वाले घर में रहने लगी थीं.

ये भी पढ़ें-

सियासत के सितारे कहलाते थे एनडी तिवारी, इन कांड से लगा साख पर बट्टा

नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर को पड़ा दिल का दौरा, मौत

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार