Home /News /uttarakhand /

Politics of Uttarakhand : दून में होगा शीतकालीन सत्र, गैरसैंण जाएंगे हरीश रावत तो कैसे चढ़ेगा सियासी पारा?

Politics of Uttarakhand : दून में होगा शीतकालीन सत्र, गैरसैंण जाएंगे हरीश रावत तो कैसे चढ़ेगा सियासी पारा?

डूंगा से थानगांव की पदयात्रा की तस्वीर हरीश रावत ने अपने सोशल मीडिया पर साझा की.

डूंगा से थानगांव की पदयात्रा की तस्वीर हरीश रावत ने अपने सोशल मीडिया पर साझा की.

Uttarakhand Election 2022 : 9 दिसंबर से विधानसभा का शीतकालीन सत्र (Assembly Session) भले ही देहरादून में होने जा रहा हो, लेकिन चुनावी साल में इसकी गूंज गैरसैंण में भी सुनाई देने वाली है. दोनों दलों ने आज अपने-अपने विधानमंडल दल की मीटिंग बुलाई है. इधर, पूर्व सीएम हरीश रावत (Harish Rawat Campaign) सहसपुर विधानसभा डूंगा से मालडुंग तक पदयात्रा जैसे कार्यक्रम करते हुए समर्थन जुटाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं. अब असेंबली के सेशन को लेकर उन्होंने सरकार के फैसले को गलत साबित करने के लिए गैरसैंण का रुख करने की रणनीति (Congress Strategy) के बारे में बातचीत की है.

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. 9 दिसंबर से उत्तराखंड विधानसभा का शीतकालीन सत्र देहरादून में होने जा रहा है. दो दिन का ये सत्र पहले गैरसैंण में प्रस्तावित था. पहले गैरसैंण और फिर देहरादून, सत्र का स्थान बदले जाने को अब कांग्रेस मुददा के तौर पर भुनाने की कवायद रही है. पूर्व सीएम एवं कांग्रेस इलेक्शन कैम्पेन कमेटी के चेयरमैन हरीश रावत का कहना है कि ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि सरकार को गैरसैंण जाने में ठंड लग रही है. लेकिन, मैं अपने प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल के साथ गैरसैंण जा रहा हूं. नौ दिसंबर को हमारे विधायक विधानसभा में जनता के सवाल उठा रहे होंगे, तो मैं गैरसैंण में सरकार की सद्बुद्धि के लिए उपवास कर रहा होऊंगा.

विपक्ष महंगाई, बेरोज़गारी, कर्मचारियों की समस्याओं पर भी सरकार को घेरने की कोशिश करेगा. हाल में, कांग्रेस नेता यशपाल आर्य पर हुए हमले को लेकर भी सदन का माहौल गरमा सकता है. विपक्ष कानून व्यवस्था के मुद्दे पर सवाल खड़े कर सकता है. सत्र में क्या रणनीति रहेगी, इसके लिए कांग्रेस ने बुधवार शाम अपने विधानमंडल दल की मीटिंग बुलाई है. चुनाव और विधानसभा सेशन से पहले बीजेपी गैरसैंण जैसे मुद्दों को तूल नहीं देना चाहती. गैरसैंण को मुद्दा बनाने के मामले में भाजपा ने हरीश रावत पर पलटवार करते हुए उनके चुनाव हारने को मुद्दा बनाया.

हरीश रावत के पास काम भी क्या है : उनियाल
शासकीय प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने कहा, ‘गणेश गोदियाल हों या फिर हरीश रावत, दोनों ही चुनाव हारे हुए नेता हैं इसिलिए उनका विधानसभा सेशन में काम भी क्या है. वो चाहे जहां जा सकते हैं.’ चूंकि विधानसभा चुनाव से पहले उत्तराखंड में यह विधानसभा का अंतिम सत्र होगा इसलिए बीजेपी भी इसका पूरा लाभ लेने और जनता को लुभाने की कवायद करने के लिए पूरी तरह तैयार हो रही है.

Uttarakhand assembly session, winter session of assembly, Uttarakhand assembly, उत्तराखंड विधानसभा सत्र, शीतकालीन सत्र, उत्तराखंड विधानसभा, 2022 Uttarakhand Assembly Elections, Uttarakhand Assembly Election, उत्तराखंड विधानसभा चुनाव, उत्तराखंड चुनाव 2022, UK Polls, UK Polls 2022, UK Assembly Elections, UK Vidhan sabha chunav, Vidhan sabha Chunav 2022, UK Assembly Election News, UK Assembly Election Updates, aaj ki taza khabar, UK news, UK news live today, UK news india, UK news today hindi, उत्तराखंड ताजा समाचार, dehradun news

विधानसभा के शीत सत्र की रणनीतियों के लिए बीजेपी बुधवार को विधानमंडल दल की मीटिंग करेगी.

बीजेपी ने भी बुधवार को अपने विधानमंडल दल की मीटिंग बुलाई है. सेशन में देवस्थानम एक्ट को समाप्त करने से लेकर नजूल भूमि प्रबंधन नीति जैसे प्रस्तावों पर सरकार मुहर लगाएगी. चूंकि चुनाव में जाने से पहले ये विधानसभा का अंतिम सेशन होगा. लिहाज़ा, ये तय है कि शीतकाल का ये सेशन तो हंगामेदार होगा ही, इस दौरान सियासी पारा भी अपने चरम पर रहेगा.

Tags: Harish rawat, Uttarakhand assembly, Uttarakhand Assembly Election 2022, Uttarakhand news, Uttarakhand politics

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर