Assembly Banner 2021

Dehradun News: हनीट्रैप में फंसाकर दोस्तों के साथ लूटपाट करती थी युवती, पहुंचे सलाखों के पीछे

पुलिस ने शातिर युवती कृतिका भट्ट के साथ नकुल और दीपक को गिरफ्तार किया.

पुलिस ने शातिर युवती कृतिका भट्ट के साथ नकुल और दीपक को गिरफ्तार किया.

Uttarakhand News: पुलिस की पूछताछ पर आरोपियों ने बताया कि ये लोग महिला को रास्ते में खड़ा कर देते थे. जो मौके पर आने-जाने वालों पर नजर रखती थी. जो व्यक्ति सीधा-साधा लगता था, उसे झांसे में फंसाकर लिफ्ट मांगती थी.

  • Share this:
देहरादून. देहरादून में हनीट्रैप का मामला आया सामने जहां एक युवती ने लिफ्ट के बहाने युवक को जाल में फंसाया और अपने शातिर दोस्तों के साथ मिलकर 50 हजार रुपये लूट लिए. मामले में पीड़ित युवक ने थाना राजपुर को सूचना दी जिस पर पुलिस ने तुरंत कार्रवाई कर तीनों शातिर अपराधियों को कुछ ही घण्टों में गिरफ्तार कर लिया. दरअसल, सहारनपुर के रहने वाले 36 वर्षीय मोहम्मद यूसुफ ने थाना राजपुर में सूचना दी कि उसके साथ एक महिला और दो अन्य युवकों द्वारा लाठी डंडों से मारपीट कर उस से 50 हजार रुपये के लूट की घटना को अंजाम दिया है. पीड़ित की तहरीर के आधार पर थाना राजपुर पर मुकदमा दर्ज किया गया. पीड़ित ने पुलिस को पूछताछ के दौरान बताया कि वह सहारनपुर में ठेकेदारी का काम करता है. काम के सिलसिले में बुधवार को सुबह ही मसूरी आया था.

मसूरी में एक अन्य ठेकेदार से लेबर के 50 हजार रुपये लेकर वापस सहारनपुर जा रहा था. तभी मसूरी डायवर्जन के पास एक लड़की ने लिफ्ट मांगी. महिला को लिफ्ट देकर अपनी मोटरसाइकिल में बैठा लिया. महिला ने बताया कि उसकी मां की तबीयत खराब है. उसको घंटाघर जाना है. घंटाघर जाने से पहले महिला ने बताया कि उसे किसी से कुछ पैसे लेने हैं.

युवती ने मोहम्मद युसूफ से सैनिक फॉर्म की तरफ जाने का अनुरोध किया. वहां पर महिला ने यूसुफ के फोन से अपने प्रेमी और उसके साथी को बुला लिया. तीनों ने मिलकर मारपीट की और और पीड़ित से 50 हजार रुपये लूट लिए. पीड़ित द्वारा शोर मचाने पर तीनों लोग मौके से फरार हो गए. मामले की गम्भीरता को देखकर पुलिस ने तुरंत ही मुकदमा दर्ज कर इलाके में सीसीटीवी कैमरों के साथ मुखबिरों से जानकारी प्राप्त की. पुलिस ने शातिर युवती कृतिका भट्ट के साथ नकुल और दीपक को गिरफ्तार किया. मामले में पुलिस की पूछताछ पर आरोपियों ने बताया कि ये लोग महिला को रास्ते में खड़ा कर देते थे. जो मौके पर आने-जाने वालों पर नजर रखती थी. जो व्यक्ति सीधा-साधा लगता था, उसे झांसे में फंसाकर लिफ्ट मांगती थी. प्लान के अनुसार अपने अन्य साथियों को फोन कर देती है जिससे वह मौके पर आकर उक्त व्यक्ति से लूटपाट करते थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज