Champawat News: क्राइम शो देखकर चढ़ा हवस का भूत! फेक आईडी बनाकर महिलाओं से दोस्ती की और फिर...

पकड़ा गया शख्स महिलाओं को फोटो और वीडियो के जरिये ब्लैकमेल करता था.

पकड़ा गया शख्स महिलाओं को फोटो और वीडियो के जरिये ब्लैकमेल करता था.

Champawat News: आरोपी दीपक सिंह बोहरा महिलाओं की सामान्य फोटोज को अश्लील बनाकर सोशल नेटवर्किंग साइट में पोस्ट करने की धमकी देता था. धमकी से घबराई महिला अगर इसके झांसे में आ जाती थी, उनके सामने शारीरिक संबंध का प्रस्ताव रखा था. तकरीबन 35 महिलाएं इसके इन खराब इरादों का शिकार बन चुकी थीं.

  • Share this:
चंपावत. चंपावत जिला पुलिस ने एक ऐसे शख्स को पकड़ा है जो बिल्कुल फिल्मी स्टाइल में महिलाओं और लड़कियों को अपने गंदे इरादों का शिकार बनाता था. आरोपी सोशल नेटवर्किंग साइट के जरिये चंपावत से 400 किलोमीटर दूर बैठकर हरियाणा से जिले की महिलाओं को निशाना बनाता था. अपनी हवस मिटाने के लिए ये किसी भी हद तक जाने को तैयार था. पकड़े गए शख्स की पहचान दीपक सिंह बोहरा (25) पुत्र भूपाल सिंह बोहरा निवासी ग्राम बसौटा, थाना पाटी (चम्पावत) के रूप में हुई.

ये शख्स सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर पहले महिलाओं की प्रोफाइल खंगालता और फिर उन्हें फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजता था. महिला ने अगर फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार कर ली तो यहीं से इस इस सिरफिरे की कहानी शुरू हो जाती थी. ये महिला को अपने प्रेम जाल में फांसने के लिए तरह-तरह के प्रस्ताव देता था. प्यार और सेक्स से जुड़ी तस्वीरें शेयर करता था. जैसे ही महिला इसमें इंट्रेस्ट लेने लगती तो ये उससे उसकी वीडियो, फोटो मंगा लेता था. महिलाओं की प्रोफाइल में मौजूद फोटो डाउनलोड कर सेव कर लेता था. पकड़ा गया शातिर शख्स महिलाओं को इन्हीं फोटो और वीडियो के जरिये ब्लैकमेल करता था.

एसपी चंपावत लोकेश्वर सिंह के मुताबिक आरोपी महिलाओं की सामान्य फोटोज को अश्लील बनाकर सोशल नेटवर्किंग साइट में पोस्ट करने की धमकी देता था. धमकी से घबराई महिला अगर इसके झांसे में आ जाती थी, तो उसकेे सामने शारीरिक संबंध का प्रस्ताव रखा था. तकरीबन 35 महिलाएं इसके इन खराब इरादों का शिकार बन चुकी थी.

क्राइम शो से मिला आइडिया


महिलाओं को ब्लैकमेल करने वाले युवक को चंपावत पुलिस ने हरियाणा से गिरफ्तार किया है. वह मूलत: पाटी ब्लॉक का रहने वाला है. नाम दीपक बोरा है. पुलिस के मुताबिक पूछताछ में दीपक ने बताया है कि वह महिलाओं को पहले फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजता था. फिर उनसे हर तरह की बात करता था. कुछ महिलाएं भी

उसके साथ अपनी निजी बातें शेयर करती थीं. सबसे पहले उसे ये आइडिया टीवी पर क्राइम से जुड़े एक कार्यक्रम को देखकर आया. उसने देखा कि एक शख्स महिलाओं के साथ ये सब करके आसानी से कुछ भी कर सकता है. इसके बाद उसने महिलाओं और लड़कियों के साथ ऐसा ही करने का सोचा. और धीरे-धीरे उसे ये सब अच्छा लगने लगा.

​ऐसे आया पकड़ में





वैसे तो आरोपी दीपक कई कई महिलाओं को अपना शिकार बना चुका था. एक युवती जब इसके चंगुल में फंसी तो उसने दीपक को सबक सिखाने की ठान ली. दीपक रीठासाहिब की रहने वाली युवती को जब अपने जाल में फंसा रहा था, तभी इस लड़की ने पुलिस में शिकायत कर दी. फिर क्या था पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी. पुलिस जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ती गई, कई राज बेपर्दा होते चले गए. एक-एक कर ब्लैकमेल होने वाली 35 महिलाओं का चिठ्ठा पुलिस के सामने आ गया. दीपक की पूरी कहानी सामने आ गई. पुलिस ने दीपक के मोबाइल को भी सील कर लिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज