ये कैसा क्वारंटाइन, देहरादून के सेंटर में युवक की मौत, जब लाश सड़ी तो ली सुध
Dehradun News in Hindi

ये कैसा क्वारंटाइन, देहरादून के सेंटर में युवक की मौत, जब लाश सड़ी तो ली सुध
मामले ने अब तूल पकड़ लिया है और विपक्ष अब सरकार पर हमला कर रहा है.

क्वारंटाइन सेंटर के पंखे से झूलता मिला शव, पुलिस ने जताई आत्महत्या की आशंका

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड में क्वारंटाइन सेंटरों की बदहाली एक बार फिर झकझोर देने वाली घटना के रूप में सामने आई है. देहरादून के बालावाला में क्वारंटाइन सेंटर में 19 साल के एक युवक की लाश मिलने से हड़कंप मच गया है. न सिर्फ क्वारंटाइन सेंटर में युवक की मौत हुई है बल्कि इससे भी चिंताजनक बात यह है कि दो-तीन दिन से किसी को इस बारे में पता ही नहीं चला. आज सूचना मिलने पर पुलिस ने दरवाजा तोड़कर युवक का शव कब्जे में लिया और उसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा लेकिन इस घटना से पूरे सिस्टम और कोरोना से जंग के सरकारी दावों पर सवाल खड़े हो गए हैं.

आत्महत्या का मामला!
देहरादून के सरदार भगवान दास मेडिकल कॉलेज के बॉयज हॉस्टल में संस्थागत क्वारंटाइन सेंटर बनाया गया है. यहां से रायपुर थाने को सूचना दी गई कि एक कमरे में रखा गया युवक न दरवाज़ा खोल रहा है और न ही जवाब दे रहा है. पुलिस को यह भी बताया गया कि कमरे से बदबू आने लगी है. सब-इंस्पेक्टर जगमोहन सिंह राणा मौके पर पहुंचे तो कमरे की कुंडी अंदर से लगी होने के कारण दरवाजा तोड़ना पड़ा. अंदर युवक का शव पंखे से लटका हुआ था और उससे बदबू उठने लगी थी. राणा कहते हैं कि परिस्थितियों को देखते हुए तो यह आत्महत्या का मामला ही लगता है.

जबलपुर से लौटा था
माना जा रहा है कि शव दो से तीन दिन पुराना हो सकता है हालांकि पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम के बाद ही मौत का समय और वजह के बारे में कुछ कहा जा सकता है. शव के पास मिली आईडी के अनुसार युवक का नाम संकेत मेहरा है. हरिद्वार निवासी 19 वर्षीय युवक पांच जून की रात जबलपुर से ट्रेन से देहरादून पहुंचा था, जहां से उसे क्वारंटाइन सेंटर में भेज दिया गया था. इस क्वारंटाइन सेंटर में करीब 215 लोगों को रखा गया है.



सेंटरों का हाल बेहाल
युवक की मौत के साथ ही एक बार फिर क्वारंटाइन सेंटरों की व्यवस्था को लेकर सवाल खड़े होने लगे हैं. उत्तराखंड में अभी तक क्वारंटीन सेंटरों में 11 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. नैनीताल के बेतालघाट क्वारंटीन सेंटर में तो एक बच्ची की सांप के काटने से मौत हो गई थी.

इधर क्वारंटाइन सेंटरों में हो रही मौत पर कांग्रेस ने सवाल खड़े किए हैं. कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय का कहना है कि सरकार ने परेशान लोगों को उनके हाल पर छोड़ दिया है और पहले से मुश्किल से जूझ रहे लोग एक के बाद एक मरते जा रहे हैं.

ये भी देखें: 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading