Home /News /uttarakhand /

मनरेगा कर्मियों को स्थाई नियुक्ति देना मुश्किल : प्रीतम

मनरेगा कर्मियों को स्थाई नियुक्ति देना मुश्किल : प्रीतम

Preetam Singh: File Photo

Preetam Singh: File Photo

स्थाई नियुक्ति की मांग को लेकर मनरेगाकर्मी काफी समय से धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. मगर ग्रामीण विकास मंत्री प्रीतम सिंह का कहना है कि अभी किसी राज्य में मनरेगा कर्मियों को स्थाई नियुक्ति नहीं दी गई है. ऐसे में प्रदेश में भी मनरेगा कर्मियों को भी स्थाई नियुक्ति देना मुश्किल है. उनका कहना है कि दरअसल मनरेगा एक योजना है.

अधिक पढ़ें ...
स्थाई नियुक्ति की मांग को लेकर मनरेगाकर्मी काफी समय से धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. मगर ग्रामीण विकास मंत्री प्रीतम सिंह का कहना है कि अभी किसी राज्य में मनरेगा कर्मियों को स्थाई नियुक्ति नहीं दी गई है. ऐसे में प्रदेश में भी मनरेगा कर्मियों को भी स्थाई नियुक्ति देना मुश्किल है.

उनका कहना है कि दरअसल मनरेगा एक योजना है. इस योजना के तहत कर्मियों को रोजगार उपलब्ध कराया जाता है. इस तरह से योजना के बंद होने पर कर्मियों की सेवाएं समाप्त हो जाती है. इस तरह से योजना के कर्मियों को स्थाई करना बहुत मुश्किल काम है. उनका कहना है कि मनरेगा कर्मियों ग्रामीण क्षेत्रों में काम करते हैं.

ग्रामीण क्षेत्रों के विकास में अपना योगदान देना हैं, लेकिन यह एक योजना है. इस योजना के तहत स्थाई नियुक्ति का प्रावधान कहीं नहीं है. इस तरह से देखा जाय तो कर्मियों को स्थाई नियुक्ति देना बहुत मुश्किल है.

प्रदेश में हजारों की संख्या में मनरेगा काम करते हैं. वे काफी समय से स्थाई नियुक्ति की मांग कर रहे हैं. वे राजधानी देहरादून में कई बार धरना प्रदर्शन भी कर चुके हैं. मगर शासन ने अभी उन्हें कोई आश्वासन नहीं दिया है. फिलहाल कर्मी स्थाई नियुक्ति की मांग कर रहे हैं.

Tags: Almora News, Uttarakhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर