रुद्रप्रयाग में नाबालिग बेटी से देह व्यापार कराने की दोषी मां समेत पांच अभियुक्तों को 10 वर्ष की कैद

नाबालिग से देह व्यापार कराने के पांच दोषियों को कोर्ट ने 10-10 साल की सजा सुनाई है.

सांकेतिक फोटो.

नाबालिग से देह व्यापार कराने के पांच दोषियों को कोर्ट ने 10-10 साल की सजा सुनाई है. सांकेतिक फोटो.

रुद्रप्रयाग (Rudraprayag) कि जिला अदालत ने नाबालिग बेटी से जबरन देह व्यापार कराने के एक मामले में पीड़ि‍ता की मां और शहर के एक होटल मालिक समेत पांच लोगों को दस साल की सजा (Punishment) सुनाई है. साथ ही अदालत ने सभी के ऊपर जुर्माना भी लगाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2021, 9:03 PM IST
  • Share this:
रुद्रप्रयाग. नाबालिग बेटी से जबरन देह व्यापार कराने के एक मामले में पीड़ि‍ता की मां और शहर के एक होटल मालिक समेत पांच लोगों को जिला न्यायालय (Court) ने दस वर्ष की कठोर कैद की सजा सुनाई है. साथ ही अर्थदंड की सजा भी लगाया है. 25 जून 2019 को कोतवाली रुद्रप्रयाग (Rudraprayag) में एक नाबालिग की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया था.

नाबालिग पीड़ि‍ता ने पुलिस को बताया था कि उसकी मां अन्य लोगों के साथ मिलकर उससे जबरन देह व्यापार कराती है और इसकी एवज में पैसे लेती है. रुद्रप्रयाग शहर के एक होटल में यह काम पिछले कई समय से कराया जा रहा है. पीड़िता की तहरीर के आधार पर पुलिस ने पोस्को अधिनियम के तहत मामला पंजीकृत किया था. जांच के दौरान आरोपितों से पूछताछ की गई, जिसमें आरोपों की पुष्टि हुई थी.

कुर्सी गंवाने पर त्रिवेंद्र सिंह रावत का फिर छलका दर्द, कहा- मैं अभिमन्यु, मुझे कौरवों ने छल से मारा

अब इस मामले में जिला न्यायाधीश हरीश गोयल की अदालत ने गुरुवार को होटल व्यापारी महेश खन्ना को पोस्को व अनैतिक कार्य कराने के मामले में दस वर्ष की कैद और दस हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई है. पीड़ि‍ता की मां सरला देवी को पोस्को व अनैतिक कार्य करने के आरोप में दस-दस वर्ष की कठोर कारावास की सजा तथा पांच सौ व एक हजार रुपये के अर्थदंड की सजा सुनाई है.
इस मामले में शामिल बीना देवी को भी दस वर्ष की कैद व पंद्रह सौ रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई है. कृत में शामिल प्रकाश राणा व राजेंद्र भंडारी को भी दस वर्ष की सजा व अर्थदंड की सजा सुनाई गई है. सभी सजा साथ-साथ चलेंगी. सरकार की ओर से जिला शासकीय अधिवक्ता सुदर्शन चैधरी ने मामले की पैरवी की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज