Home /News /uttarakhand /

3500 एलटी शिक्षकों की नियुक्ति करेगी सरकार: सीएम रावत

3500 एलटी शिक्षकों की नियुक्ति करेगी सरकार: सीएम रावत

सीएम ने कहा कि प्रदेश सरकार नए एलटी शिक्षकों की भर्ती करने की तैयारी कर रही है.

सीएम ने कहा कि प्रदेश सरकार नए एलटी शिक्षकों की भर्ती करने की तैयारी कर रही है.

सीएम ने कहा कि प्रदेश सरकार नए एलटी शिक्षकों की भर्ती करने की तैयारी कर रही है.

प्रदेश के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि प्रदेश सरकार का मकसद प्रत्येक ग्राम पंचायत को आत्मनिर्भर बनाने का है. साथ ही सीएम ने कहा कि प्रदेश सरकार नए एलटी शिक्षकों की भर्ती करने की तैयारी कर रही है.

3 हजार 500 एलटी शिक्षकों की भर्ती की जा रही है गेस्ट टीचरों को भी यथावत रखा जायेगा और जिन गेस्ट टीचरों को बाहर किया गया है, उन्हें दोबारा नियुक्ति दी जा रही है.

जब ग्रामीण अपने आप में आत्मनिर्भर होंगे तो उन्हें दूसरों के सहारे जीवन यापन नहीं करना पड़ेगा. ग्रामीणों के विकास के लिए सरकार की ओर से अनेक जन कल्याणकारी योजनाओं का संचालन किया जा रहा है. ग्रामीणों को योजनाओं से अधिक से अधिक संख्या में जुड़ना चाहिए.

राजकीय इंटर काॅलेज गुप्तकाशी में 1.5 मेगावाट की गुप्तकाशी जल विद्युत परियोजना को लेकर ग्राम पंचायत ल्वारा, सैमी-भैंसारी एवं यूजेवीएन लिमिटेड के बीच आयोजित समझौता प्रपत्र हस्ताक्षर समारोह को संबोधित करते हुए प्रदेश के मुखिया हरीश रावत ने कहा कि केदारघाटी के लिए यह एक ऐतिहासिक दिन है.

ग्राम पंचायत ल्वारा एवं सेमी-भैंसारी ने यूजेवीएन के साथ समझौता पत्र पर हस्ताक्षर करके गांव को विकास की मुख्यधारा से जोड़ा है. जल विद्युत परियोजना का निर्माण होने से ग्रामीण बिजली उत्पादन करने के साथ ही बिजली को बाहरी क्षेत्रों में बेच भी सकेंगे.

इसके साथ ही कंपनी गांवों के विकास पर भी पैंसा खर्च करेगी. उन्होंने कहा कि आने वाले दो सालों के भीतर उक्त गांव विकसित हो जाएंगे कंपनी भी गांवों के विकास में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेंगे.

रावत ने कहा कि गदेरों में पानी फालतू बहता है. ग्रामीणों को पानी का उपयोग करके बिजली उत्पादन, घ्राटों का संचालन आदि करना चाहिए. उन्होंने कहा कि आज हम बाहरी क्षेत्रों से सामान खरीद रहे हैं, लेकिन प्रदेश चाहती है कि उत्तराखंड में ही अधिकांश सामग्री की पैदावार हो और लोग यहीं के सामान को खरीदें.

जनता को संबोधित करते हुये मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि प्रदेश सरकार खेती को बढ़ावा दे रही है. धीरे-धीरे सरकारी नौकरियां कम होती जा रही हैं. ऐसे में हमें खेती की ओर भी ध्यान देना चाहिए.

खेती को बंदरों से बचाने के लिए बाड़े तैयार किए जा रहे हैं, जबकि सुअरों को मारने की अनुमति पहले दी जा चुकी है. उन्होंने कहा कि केदारघाटी के लोगों की आजीविका केदारनाथ यात्रा पर निर्भर है.

ऐसे में केदारनाथ यात्रा के सही संचालन में सरकार कोई कोर-कसर नहीं छोड़ना चाहती है. उन्होंने कहा कि वर्ष प्रदेश सरकार पांच सौ नई सड़कों को बनाने जा रही है. जबकि 35 सौ एलटी शिक्षकों की भर्ती की जा रही है. गेस्ट टीचरों को भी यथावत रखा जायेगा और जिन गेस्ट टीचरों को बाहर किया गया है, उन्हें दोबारा नियुक्ति दी जा रही है.

Tags: Harish rawat

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर