सामूहिक मुंडन करा सरकार के ख़िलाफ़ आक्रोश जताया प्रधानों ने

News18India
Updated: October 12, 2017, 12:44 PM IST
सामूहिक मुंडन करा सरकार के ख़िलाफ़ आक्रोश जताया प्रधानों ने
News18India
Updated: October 12, 2017, 12:44 PM IST
चार सूत्रीय मांगों को लेकर आठ दिन से अनशन पर बैठे ग्राम प्रधानों ने बुधवार को सामूहिक रूप से मुंडन करा सरकार के खिलाफ आक्रोश जताया.

इससे पहले प्रधानों ने सरकार की शव यात्रा निकालनी चाही, लेकिन पुलिस ने इसकी अनुमति नहीं दी. इस पर पुलिस और प्रधानों के बीच खूब नोकझोंक हुई और पुलिस ने उनसे पुतला छीन लिया.

प्रधानों ने सरकार को आत्मदाह की चेतावनी दी है.

प्रदेश प्रधान संगठन के बैनर तले राज्य वित्त के बजट में बढ़ोत्तरी, पंचायतीराज एक्ट को लागू करने, मनरेगा के तहत समय पर भुगतान और नगर निगम सीमा में पंचायतों को नहीं शामिल करने की मांग को लेकर आंदोलन चल रहा है.

चार अक्टूबर से बेमियादी अनशन चल रहा है. बुधवार को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह भी धरना स्थल पहुंचे. उन्होंने कहा कि ग्राम प्रधानों के आंदोलन को सरकार पुलिस के माध्यम से आंदोलन को दबाना चाहती है. जबकि, सरकार को प्रधानों से बातचीत कर सभी मसलों का हल निकालना चाहिए.

प्रदेश प्रधान संगठन के अध्यक्ष गिरवीर परमार ने कहा कि सरकार की हठधर्मिता के खिलाफ आंदोलन तेज किया जाएगा. इस दौरान कुंदन सिंह बोहरा, धीरज लाल शाह, प्रवीन चौहान, रितेश जोशी, धनवीर सिंह बिष्ट, दलबीर सिंह कठैत, मगनलाल, कैलाश सिंह, रुकमणि देवी, राकेश नेगी, मोहन सिंह आदि अनशन पर रहे.

 
First published: October 12, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर