अपना शहर चुनें

States

चार धाम यात्रा को लेकर ऋषिकेश में जबर्दस्‍त उत्‍साह

उत्तराखंड आपदा के दो साल पूरे होने के बाद एक बार फिर से चार धाम यात्रा की रौनक लौटने लगी है. खासकर ऋषिकेश में यात्रा की चहल पहल से स्‍थानीय लोगों के चेहरों पर मुस्‍कान लौट आई है.
उत्तराखंड आपदा के दो साल पूरे होने के बाद एक बार फिर से चार धाम यात्रा की रौनक लौटने लगी है. खासकर ऋषिकेश में यात्रा की चहल पहल से स्‍थानीय लोगों के चेहरों पर मुस्‍कान लौट आई है.

उत्तराखंड आपदा के दो साल पूरे होने के बाद एक बार फिर से चार धाम यात्रा की रौनक लौटने लगी है. खासकर ऋषिकेश में यात्रा की चहल पहल से स्‍थानीय लोगों के चेहरों पर मुस्‍कान लौट आई है.

  • Share this:
उत्तराखंड आपदा के दो साल पूरे होने के बाद एक बार फिर से चार धाम यात्रा की रौनक लौटने लगी है. खासकर ऋषिकेश में यात्रा की चहल पहल से स्‍थानीय लोगों के चेहरों पर मुस्‍कान लौट आई है.

केदारनाथ यात्रा के लिए श्रद्धालु अब फिर से उत्तराखंड का रूख करने लगे हैं, जिससे उत्तराखंड में नई उम्मीद जगनी शुरू हो गई है. करीब 2,70,000 यात्री 17 जून तक करवा चुके रजिस्टरशन करवा चुके हैं.

यात्रियों में बढ़ते विश्‍वास ने अस्त-व्यस्त पड़े जीवन को पटरी पर लाना शुरू कर दिया है. देवभूमि के प्रवेश द्वार ऋषिकेश में ठप्प पड़ गए व्यापार में अब रौनक लौटने लगी है. यात्रा को लेकर ऋषिकेश में खूब उत्साह है.



पंजीकरण के आंकड़े बताते हैं कि आपदा के बाद जो भय का माहौल था, वो अब खत्म हो गया है. देश के विभिन्न प्रदेशों और विदेश से आए यात्री बद्रीनाथ केदारनाथ के आलावा गंगोत्री और यमनोत्री के भी दर्शन करने के लिए निकले हैं.
17 जून तक ऋषिकेश में करीब 2,70,000 से ज्यादा यात्री चारधाम के दर्शन कर चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज