हल्द्वानी जेल में बंद कैदियों की स्वास्थ्य जांच में 16 निकले HIV पॉजिटिव, मचा हड़कंप

फिलहाल हल्द्वानी उप कारागार में क्षमता से 3 गुणा ज्यादा कैदी बंद हैं.

हल्द्वानी उप कारागार में बंद 16 कैदियों में एचआईवी की पुष्टि हुई है. हालांकि इसमें से 8 कैदियों को पहले से ही मालूम था कि वे एचआईवी पॉजिटिव हैं और उनका इलाज भी चल रहा था. जेल अधीक्षक के मुताबिक, एचआईवी पॉजिटिव पाए गए सभी कैदियों का ट्रायल चल रहा है.

  • Share this:
हल्द्वानी. उत्तराखंड की हल्द्वानी जेल में बंद 16 कैदियों के एचआईवी पॉजिटिव होने की खबर है. जिन कैदियों में एचआईवी की पुष्टि हुई है, उसमें 15 पुरुष और एक महिला कैदी शामिल हैं. इस मामले के सामने आने के बाद जेल प्रशासन और जेल में बंद कैदियों में हड़कंप है. कैदियों के एचआईवी ग्रसित होने का पता तब लगा, जब सुशीला तिवारी अस्पताल में इनकी स्वास्थ्य जांच की गई. हालांकि इसमें से 8 कैदियों को पहले से ही मालूम था कि वे एचआईवी पॉजिटिव हैं और उनका इलाज भी चल रहा था. लेकिन बाकी 8 कैदियों को 6 जुलाई को हुई जांच में खुद के एचआईवी पॉजिटिव होने का पता लगा.

नशे के इंजेक्शन से हुआ होगा एड्स

हल्द्वानी उप-कारागार के जेल अधीक्षक एसके सुखीजा के मुताबिक, फिलहाल एचआईवी से ग्रसित कैदियों को अन्य कैदियों के साथ ही रखा गया है.​ लेकिन इनका विशेष ध्यान रखा जा रहा है. साथ ही खाने के लिए भी डॉक्टरी सलाह के मुताबिक और अधिक पौष्टिक आहार दिया जा रहा है. जेल अधीक्षक के मुताबिक, जो कैदी एचआईवी पॉजिटिव पाए गए हैं, उनमें से सभी का ट्रायल चल रहा है और सभी एनडीपीएस एक्ट के तहत जेल में बंद हैं. इसलिए अनुमान लगाया जा रहा है कि कैदियों को नशे के इंजेक्शन लेने की वजह से एड्स हुआ होगा. हालांकि इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है.

जेल में बंद हैं तीन गुना ज्यादा कैदी

हल्द्वानी जेल की क्षमता 535 कैदियों को रखने की है, लेकिन यहां लगभग तीन गुना ज्यादा कैदी बंद हैं. फिलहाल हल्द्वानी उपकारा में 1558 कैदी बंद हैं, जिनमें 1517 पुरुष कैदी और 41 महिला कैदी और विदेशी शामिल हैं. ऐसे में इतनी भरी हुई जेल में कैदी एक-दूसरे के संपर्क में आते रहते हैं. जेल अधीक्षक एसके सुखीजा के मुताबिक कैदियों को अन्य जेलों में शिफ्ट किया जा रहा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.