Home /News /uttarakhand /

हल्द्वानी के रक्षक हैं कालू सिद्ध बाबा, रोचक है मंदिर में 'गुड़ की भेली' चढ़ाने का किस्सा

हल्द्वानी के रक्षक हैं कालू सिद्ध बाबा, रोचक है मंदिर में 'गुड़ की भेली' चढ़ाने का किस्सा

कालू

कालू सिद्ध बाबा के मंदिर में गुड़ की भेली चढ़ाई जाती है.

कालू सिद्ध बाबा को हल्द्वानी शहर का रक्षक भी कहा जाता है. 

    उत्तराखंड (Uttarakhand Temples) के कण-कण में देवताओं का वास है, इसीलिए तो इसे ‘देवभूमि’ कहा जाता है. उत्तराखंड चारों धामों, सिद्ध पीठों और देवालयों के लिए दुनियाभर में प्रसिद्ध है. इन्हीं सिद्ध पीठों में से एक है नैनीताल रोड में कालाढूंगी चौराहे पर स्थित श्री कालू सिद्ध बाबा का मंदिर. यह मंदिर शहर के बीचों-बीच स्थित है. मान्यता है कि बाबा से सच्चे मन से मांगी गई हर मन्नत पूरी होती है.

    कालू सिद्ध बाबा को हल्द्वानी शहर का रक्षक भी कहा जाता है. यही वजह है कि किसी भी शुभ कार्य से पहले श्रद्धालु बाबा के दरबार में आकर आशीर्वाद मांगते हैं. कालू सिद्ध बाबा के मंदिर में प्रसाद के तौर पर गुड़ की भेली चढ़ाने की रवायत है. मंदिर में आपको बड़ी संख्या में घंटियां भी दिखाई देंगी.

    बताया जाता है कि कालू सिद्ध बाबा मंदिर अंग्रेजों के शासन काल के वक्त से अस्तित्व में है. कहते हैं कि पौराणिक काल में कालू सिद्ध बाबा मंदिर हल्द्वानी पहुंचे थे. तो उन्होंने भगवान शनि की उपस्थिति जानकर यहां एक मठ की स्थापना की थी. जो आगे चलकर श्री कालू सिद्ध बाबा के मंदिर के रूप में परिवर्तित हो गया.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर