Home /News /uttarakhand /

हल्द्वानी में उत्तरायणी मेले की तैयारियां जोरों-शोरों पर, 14 जनवरी को मनाया जाता है त्योहार

हल्द्वानी में उत्तरायणी मेले की तैयारियां जोरों-शोरों पर, 14 जनवरी को मनाया जाता है त्योहार

हल्द्वानी

हल्द्वानी के उत्थान मंच में उत्तरायणी मेला लगता है.

साल 1982 में पर्वतीय उत्थान मंच में उत्तरायणी मेले का पहली बार आयोजन किया गया था. 

    हल्द्वानी के हीरानगर स्थित उत्थान मंच में पिछले करीब 40 वर्षों से धूमधाम से 14 जनवरी को उत्तरायणी पर्व (Uttarayani Festival 2022) मनाया जाता है. इसे ‘घुघुतिया त्योहार’ भी कहा जाता है. उत्थान मंच में 8 जनवरी से मेला शुरू हो जाता है. मंच के अध्यक्ष ने बताया कि युवा पीढ़ी अब कुमाऊंनी संस्कारों को भूलती जा रही है, इस वजह से उनका मकसद है कि इस मेले के जरिए वह ज्यादा से ज्यादा युवाओं को कुमाऊंनी संस्कृति के बारे में बता सकें.

    साल 1982 में उत्थान मंच में उत्तरायणी मेले का पहली बार आयोजन किया गया था. चार दशक बाद भी पूरे रीति-रिवाजों के साथ इस त्योहार को मनाया जाता है. उत्तरायणी मेले का मुख्य उद्देश्य है कि युवा पीढ़ी कुमाऊंनी संस्कृति को भूले नहीं. आने वाली पीढ़ी को कुमाऊंनी संस्कृति से वाकिफ कराने के लिए हर साल उत्तरायणी का मेला लगाया जाता है.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर