केंद्रीय आयुष मंत्री से मिले हरक सिंह, आयुर्वेद पर शोध की ज़रूरत बताई

News18India
Updated: September 13, 2017, 9:33 PM IST
केंद्रीय आयुष मंत्री से मिले हरक सिंह, आयुर्वेद पर शोध की ज़रूरत बताई
News18India
Updated: September 13, 2017, 9:33 PM IST
प्रदेश के आयुष और आयुष शिक्षा मंत्री डॉक्टर हरक सिंह रावत ने भारत सरकार के आयुष राज्य मंत्री श्रीपद येसो नाईक से नई दिल्ली स्थित उनके निवास स्थान पर मुलाकात की.

इस मौके पर रावत ने नाईक से उत्तराखण्ड में आयुष को एक मिशन के रूप में आगे बढाने के लिए सहयोग करने की अपील की. उन्होंने नाईक को अवगत कराया कि प्रदेश में आयुर्वेद पर शोध करने की अधिक आवश्यकता है. इससे शोध करने वालों को प्रोत्साहित तो किया ही जा सकेगा नई-नई बीमारियों जैसे- स्वाइन फ्लू, डेंगू आदि पर शोध होने से भविष्य में लोगों को इन गम्भीर बीमारियों से मुक्ति भी दिलाई जा सकेगी.

इसके अलावा रावत ने अन्य प्रदेशों में चल रही आयुर्वेद सेवाओं के बारे में भी नाईक को अवगत कराया. साथ ही इन विषयों से सम्बन्धित मांगों को भी उनके सामने रखा.

भारत सरकार के आयुष राज्य मंत्री नाईक ने उत्तराखण्ड में आयुष को आगे बढाने के लिए भरपूर मदद करने का आश्वासन दिया और कहा कि उत्तराखण्ड में आयुर्वेद की जितनी सम्भावनाएं हैं उतनी अन्य प्रदेशों में नहीं हैं.

नाईक ने कहा कि उत्तराखण्ड देवभूमि भी है. यदि आयुर्वेद का वैज्ञानिक ढंग से उपयोग होगा तो भविष्य में लोगों को कैंसर, ब्लड प्रेशर, मधुमेह, हार्ट अटैक आदि गम्भीर बीमारियों से मुक्त किया जा सकेगा.

 
First published: September 13, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर