आचार्य बालकृष्ण बोले- हम आधुनिक चिकित्सा का सम्मान करते हैं, उसकी मदद भी लेते हैं लेकिन...

आचार्य बालकृष्ण ने स्वामी रामदेव और आईएमए के बीच चल रहे विवाद पर सफाई दी है.

आचार्य बालकृष्ण ने स्वामी रामदेव और आईएमए के बीच चल रहे विवाद पर सफाई दी है.

IMA Vs Baba Ramdev: आचार्य बालकृष्ण ने मामले पर सफाई देते हुए कहा कि स्वामी रामदेव कोरोना में जान गंवा चुके चिकित्सकों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त कर रहे थे लेकिन उनके खिलाफ प्रोपेगेंडा फैलाया जा रहा है.

  • Share this:

पुलकित शुक्ला.

हरिद्वार. स्वामी रामदेव और आईएमए के बीच चल रहे विवाद के बीच रामदेव के सहयोगी और पतंजलि योगपीठ के सीईओ आचार्य बालकृष्ण का बयान भी सामने आया है. आचार्य बालकृष्ण ने मामले पर सफाई देते हुए कहा कि स्वामी रामदेव कोरोना में जान गंवा चुके चिकित्सकों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त कर रहे थे लेकिन उनके खिलाफ प्रोपेगेंडा फैलाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि हम आधुनिक चिकित्सा का सम्मान करते हैं और उसकी मदद भी लेते हैं लेकिन कुछ लोग योग और आयुर्वेद को आगे बढ़ते हुए नहीं देखना चाहते. यही लोग साजिश के तहत स्वामी रामदेव को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं.

आचार्य बालकृष्ण का हाल ही में एक ट्वीट चर्चा में रहा. इस ट्वीट में बालकृष्ण ने खुले शब्दों में लिखा है कि देश में ईसाईयत का एक षडयंत्र चल रहा है, जिसके तहत ही रामदेव पर उंगली उठाई जा रही है.

इसी बीच, एलोपैथी मेडिसन पर टिप्पणी करने वाले योगगुरु बाबा रामदेव के खिलाफ इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) ने शिकायत दर्ज कराई है. ये शिकायत दिल्ली के आईपी एस्टेट थाने में दर्ज कराई गई है. आईएमए महासचिव डॉ. जयेश लेले ने कहा, "हमने दिल्ली में क्रिमिनल कम्पलेन फाइल कर दी है.
कल हमने प्रधानमन्त्री जी को पत्र लिखा था."

मालूम हो कि कुछ दिनों पहले योग गुरु बाबा रामदेव का एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें उन्होंने एलोपैथी के खिलाफ बयानबाजी की थी. इसके बाद इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने बाबा रामदेव के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. इस बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने रामदेव को एक पत्र लिखा जिसके बाद योग गुरु ने अपना बयान वापस लिया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज