Home /News /uttarakhand /

bjp expels roorkee mayor for against party activity and corruption allegations see rudraprayag case too

Roorkee मेयर को भारी पड़ा अपने ही पार्षदों से झगड़ा, भ्रष्टाचार के आरोप में BJP ने 6 साल के लिए किया बाहर

पार्टी विरोधी गतिविधि के आरोप में बीजेपी ने लिया मेयर पर बड़ा एक्शन.

पार्टी विरोधी गतिविधि के आरोप में बीजेपी ने लिया मेयर पर बड़ा एक्शन.

श्रीनगर गढ़वाल में मेयर पद को लेकर भाजपा संगठन के बीच चल रही खींचतान की खबरों के बाद अब ​हरिद्वार ज़िले के रुड़की में मेयर पर लिये गए बड़े एक्शन को लेकर भाजपा के भीतर काफी हलचलें दिख रही हैं. रुद्रप्रयाग में जिला पंचायत अध्यक्ष के हटाए जाने की खबर भी देखें.

अधिक पढ़ें ...

रुड़की. भारतीय जनता पार्टी ने हरिद्वार ज़िले के नगर रुड़की के मेयर गौरव गोयल को 6 साल के लिए पार्टी से बाहर कर दिया. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने गोयल को अनुशासनहीनता, पार्टी पार्षदों से विवाद के साथ भ्रष्टाचार के आरोपों और पार्टी विरोधी गतिविधियों को इस फैसले का कारण बताया. इस बड़े एक्शन के बाद जिला अध्यक्ष ने पार्षदों के साथ एक बैठक में कहा कि पार्टी का यह फैसला सही है और अब शहर का विकास ठीक तरह से होगा. मेयर ने इस बारे में यही कहा है कि समय आने पर वह अपनी बात रखेंगे.

1 जुलाई को बीजेपी ने गोयल को बाहर को रास्ता दिखाया, तो आज 2 जुलाई को जिला अध्यक्ष जयपाल सिंह चौहान रुड़की पहुंचे और नगर निगम के कुछ पार्षदों के साथ बैठक की. उन्होंने पार्टी के निर्णय को सही करार देते हुए गोयल पर लंबे समय से पार्टी की रीति नीति से हटकर काम करने के आरोप मढ़े. चौहान ने कहा, ‘गोयल को समझाने की कोशिश कई बार की गई लेकिन मामला सुलझा नहीं. उनका एक कथित ऑडियो भी वायरल हुआ था, जिससे पार्टी की किरकिरी भी हुई थी. पार्टी ऐसा बर्ताव लंबे समय तक बर्दाश्त नहीं कर सकती. अब पार्षद अपने क्षेत्र के विकास कार्य अच्छी तरह से करेंगे.’

किस आधार पर निकाले गए मेयर?
गोयल को बीजेपी ने 2019 में भी निकाय चुनाव के दौरान निष्कासित किया था, तब पार्टी से बगावत कर वह निर्दलीय चुनाव लड़े थे. बाद में वह भाजपा में दोबारा आ तो गए लेकिन मेयर बनने के बाद से ही पार्षदों के साथ उनका तालमेल नही बन सका. भाजपा ने गोयल को प्रमुख रूप से ये आरोप लगाकर निष्कासित किया.

— अपनी ही पार्टी के पार्षदों के साथ विवाद
— 25 लाख रुपये की रिश्वत मामले में जांच विचाराधीन
— भाजपा के नेतृत्व और प्रदेश संगठन के खिलाफ बयानबाजी
— भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने के लिए पार्टी पर मनगढ़ंत आरोप
— रुड़की शहर के विकास में बाधा डालना

इन आरोपों पर भाजपा के प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार ने कहा कि गोयल के रवैये से पार्टी की साख और छवि को क्षति पहुंची इसलिए पार्टी विरोधी गोयल को निकाल दिया गया. वहीं, इन आरोपों और पार्टी के एक्शन पर गोयल ने बोलने से साफ इनकार कर दिया. उन्होंने यही कहा कि समय आने पर वह सब कुछ बताएंगे.

एक घोटाले पर जिपं अध्यक्ष का इस्तीफा!
असल में उत्तराखंड में कई जगह भाजपा संगठन के वरिष्ठ पदाधिकारी गंभीर आरोपों, विवादों और अंदरूनी कलह में घिर रहे हैं. न्यूज़18 ने हाल ही आपको बताया था कि कैबिनेट मंत्री धनसिंह रावत के क्षेत्र श्रीनगर गढ़वाल में मेयर पद के दावेदारों के बीच किस तरह कलह चल रही है. इसी बीच, रुद्रप्रयाग में भी एक घोटाले के चलते भाजपाई ज़िला पंचायत अध्यक्ष के इस्तीफा देने की नौबत आ गई.

हमारे संवाददाता शैलेंद्र रावत की रिपोर्ट के मुताबिक जिला पंचायत अध्यक्ष अमरदेई शाह को शुक्रवार को इस्तीफा देना पड़ा. इस्तीफे के बावजूद विपक्षी सदस्यों ने फ्लोर टेस्ट में हिस्सा लिया और शाह को अविश्वास प्रस्ताव पास कर पद से हटा दिया. विपक्ष का कहना है कि जो भी आरोप अविश्वास प्रस्ताव देते समय उन्होंने लगाए, उन सब विषयों को भी वोटिंग से पहले सदन में रखा गया. जिला पंचायत सदस्यों का कहना है कि मनमानी से फैसले करने, सदस्यों की अनदेखी करने और केदारनाथ में कथित गद्दी गद्दा घोटाले की गाज शाह पर गिरी.

Tags: Roorkee news, Uttarakhand BJP

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर