हरिद्वार महाकुंभ पहुंचे CM तीरथ, बोले- खुले दिल से आएं श्रद्धालु, संतों को दी नसीहत

महाकुंभ के दौरे पर सीएम तीरथ सिंह रावत बिना मास्क लगाए ही नजर आए.

महाकुंभ के दौरे पर सीएम तीरथ सिंह रावत बिना मास्क लगाए ही नजर आए.

सीएम तीरथ सिंह रावत ने मंगलवार को अपने हरिद्वार महाकुंभ दौरे के दौरान कहा कि हरिद्वार में हो रहा महाकुंभ भव्य और दिव्य होगा. इस महाकुंभ के लिए देश और दुनिया की श्रद्धालु खुले दिल से आमंत्रित हैं.

  • Share this:
हरिद्वार. मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत (Tirath Singh Rawat) ने महाकुंभ ( Mahakumbh) को और व्यापक बनाने की तैयारी शुरू कर दी है. सीएम तीरथ सिंह रावत ने मंगलवार को अपने हरिद्वार महाकुंभ दौरे के दौरान कहा कि हरिद्वार ( Haridwar) में हो रहा महाकुंभ भव्य और दिव्य होगा. इस महाकुंभ के लिए देश और दुनिया की श्रद्धालु खुले दिल से आमंत्रित हैं. कोरोना गाइडलाइन को फॉलो करते हुए श्रद्धालु महाकुंभ में स्नान कर सकते हैं. इस दौरान सीएम तीरथ ने गंगा सभा द्वारा आयोजित महाकुंभ आरती में भी हिस्सा लिया.

विशेष स्नानों पर होगी फूलों की वर्षा

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि कुंभ को उसकी परंपरा के अनुसार ही व्यापक रखा जाएगा. इसके आयोजन में सरकार पूरी तैयारी कर रही है. कुंभ के बड़े स्नानों के मौके पर गंगा स्नान करने वाले श्रद्धालुओं और साधु-संतों के ऊपर आसमान से फूलों की वर्षा की जाएगी. इसके लिए विशेष हेलीकाप्टर लगाए जाएंगे. महाकुंभ  भव्यता के साथ होगा. किसी भी श्रद्धालु को यहां आने पर कोई भी असुविधा नहीं होगी. इसको लेकर व्यापक इंतजाम किए जा रहे हैं.

घाटों की सफाई, पानी की दिक्कत दूर होगी
महाकुंभ की तैयारियों पर सीएम तीरथ सिंह रावत ने कहा कि घाटों पर पानी की कोई किल्लत नहीं होने दी जाएगी. साथी घाटों की सफाई की व्यवस्था भी सुनिश्चित की गई है. सीएम ने कहा कि घाटों पर लगातार सैनिटाइजेशन की व्यवस्था हो रही है, ताकि कोरोना का खतरा कम किया जा सके.

अधिकारियों को दो टूक, संतों को न हो कोई दिक्कत

मुख्यमंत्री ने कुंभ की तैयारियों में जुटे अधिकारियों को चेतावनी दी है. उन्होंने कहा कि वह किसी तरह की कोताही न बरतें. ढिलाई बरतने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि बेहतर काम करने वाले अधिकारियों को सम्मानित भी किया जाएगा.



संतो को दी इशारों में सब्र रखने की नसीहत

सीएम तीरथ सिंह रावत ने संतों को इशारों में नसीहत दे डाली. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार जो भी संभव है संतो के लिए कर रही है. पहले कोरोना के खतरे को देखते हुए महाकुंभ को सीमित करने का फैसला लिया गया था. जिस के लिहाज से तैयारियां भी सीमित थी, लेकिन अब कुंभ को भव्य और दिव्य बनाने का निर्णय लिया गया है. लिहाजा अंतिम तैयारियों में थोड़ा वक्त लग रहा है. इसलिए साधु संत सरकार का साथ दें.

31 निर्माणों का लोकार्पण


CM रावत ने हरिद्वार महाकुंभ 2021 नीलधारा, चंडीद्वीप में स्थित मीडिया सेंटर में 153.73 करोड़ की लागत के कुल 31 निर्माण कार्यों का लोकार्पण किया. कुंभ को भव्य और दिव्य बनाने के लिए राज्य सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है.गंगा महापूजन में हुए शामिल

मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कार्यक्रम की जानकारी दी. उन्होंने कहा 'हरिद्वार में आज हरकी पैड़ी पर श्री गंगा सभा द्वारा आयोजित गंगा महापूजन कार्यक्रम में शामिल होने का सौभाग्य प्राप्त हुआ. मां गंगा का महापूजन कर महाकुंभ के सफलतापूर्वक संपन्न होने और राज्यवासियों की खुशहाली की कामना की. दिव्य और भव्य के साथ सरकार सुरक्षित कुंभ के लिए संकल्पित है.


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज