पूर्व मुख्यमंत्री रावत ने साधा सरकार पर निशाना, कहा, जल्दी करे अधूरे विकास कार्य

रावत ने मांग की है कि एफआरपी और राज्य सरकार के गन्ना मूल्य में जो करीब 283 करोड़ रुपये का अंतर है उसे ठीक किया जाए. उन्होंने कहा कि अगर सरकार अगस्त तक ऐसा नहीं करती है तो कांग्रेस सड़कों पर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेगी.

Tanuja Walia | News18 Uttarakhand
Updated: June 14, 2018, 11:27 AM IST
पूर्व मुख्यमंत्री रावत ने साधा सरकार पर निशाना, कहा, जल्दी करे अधूरे विकास कार्य
पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत
Tanuja Walia | News18 Uttarakhand
Updated: June 14, 2018, 11:27 AM IST
प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता हरीश रावत हरिद्वार पहुंचे. पूर्व मुख्यमंत्री ने वर्तमान भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा. रावत भाजपा सरकार पर हाईवे निर्माण कार्य और प्रदेश के किसानों की लगातार हो रही लचर स्थिति को लेकर जमकर बरसे. उन्होंने प्रदेश में हो रहे धीमी गति से विकास कार्यों कि गति बढ़ाने और बकाया कार्यों को जल्द पूरा करने को लेकर भाजपा सरकार पर निशाना साधा.

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि गन्ने का शुगर पैकेज किसानों को लिए छलावा है और सरकार के पास किसानों को भुगतान करने का कोई प्रबंध नहीं है. प्रदेश के किसानों का पैसा अभी भी बकया है. रावत ने मांग की है कि एफआरपी और राज्य सरकार के गन्ना मूल्य में जो करीब 283 करोड़ रुपये का अंतर है उसे ठीक किया जाए. उन्होंने कहा कि अगर सरकार अगस्त तक ऐसा नहीं करती है तो कांग्रेस सड़कों पर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेगी.

रावत ने कहा कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के अनुसार मई 2017 तक दिल्ली-देहरादून राष्ट्रीय राजमार्ग का कार्य पूरा किया जाना था, लेकिन इसके 1 साल बाद भी सड़क निर्माण का कार्य पूरा नहीं हुआ. उन्होंने कहा कि प्रदेश में सड़क निर्माण जो कि अधूरे पड़े वे कब तक पूरे होंगे. रावत ने कहा कि भाजपा सरकार दिल्ली-देहरादूर हाईवे की लास्ट डेट दें.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर