हरिद्वार : कुंभ खत्म करने की घोषणा कर चुके निरंजनी अखाड़े के 17 संत कोरोना पॉजिटिव

आज कुंभ मेले में शाही स्नान है (प्रतीकात्मक फोटो)

आज कुंभ मेले में शाही स्नान है (प्रतीकात्मक फोटो)

स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार वहां बनी हुई है और वह अखाड़ों में रह रहे साधु-संतों की सैंपल ले रही है. फिलहाल कोरोना संक्रमित संतों को उनके ही अखाड़े में आइसोलेट करने की व्यवस्था की जा रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 16, 2021, 4:20 PM IST
  • Share this:
हरिद्वार. हरिद्वार (Haridwar) में चल रहे महाकुंभ (mahakumbh) में लगातार कोरोना संक्रमण (Corona infection) की खबरें सामने आ रही हैं. फिलहाल निरंजनी अखाड़े से एक बड़ी खबर सामने आई है. इस अखाड़े के 17 संतों की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव (corona positive) आई है. इन संतों का रैपिट एंटीजन टेस्ट (Rapid antigen test) किया गया था. स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार वहां बनी हुई है और वह अखाड़ों में रह रहे साधु-संतों की सैंपल ले रही है. फिलहाल कोरोना संक्रमित संतों को उनके ही अखाड़े में आइसोलेट करने की व्यवस्था की जा रही है.

निरंजनी अखाड़े के सचिव महंत रविन्द्र पुरी भी संक्रमित

इस जांच के क्रम में निरंजनी अखाड़े के सचिव महंत रविन्द्र पुरी को कोरोना रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आई है. उन्हें भी अखाड़े में ही आइसोलेट किया गया है. महंत रविंद्र पुरी कल शाम पट्टाभिषेक कार्यक्रम में शामिल रहे थे. महंत रवींद्र पुरी ने खुद ही की है कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि.

Youtube Video

कुंभ खत्म करने पर अखाड़े एकमत नहीं

आपको बता दें कि हरिद्वार महाकुंभ में 13 अखाड़े आए हैं. इनमें से निरंजनी और आनंद अखाड़े ने अपनी तरफ से महाकुंभ समाप्त करने की घोषणा कर दी है. निरंजनी अखाड़े के सचिव महंत रवींद्र पुरी ने कुंभ की समाप्ति की घोषणा करते हुए कहा कि कोरोना के बढ़ते प्रकोप के चलते अखाड़े ने यह फैसला किया है कि 17 अप्रैल को होने वाले शाही स्नान के बाद कुंभ मेला समाप्त कर दिया जाएगा. आनंद अखाड़े ने भी अपनी तरफ से गुरुवार को घोषित कर दिया है कि 17 अप्रैल को मेला समाप्ति हो जाएगा. लेकिन इस मुद्दे पर बैरागी संतों और कई अन्य अखाड़ों की अलग राय है. बैरागी अखाड़े के संत निरंजनी और आनंद अखाड़े के इस फैसले के खिलाफ खड़े हो गए हैं और बाकायदा माफी मांगने की मांग कर रहे हैं. उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर दोनों अखाड़ों ने माफी नहीं मांगी तो अखाड़ा परिषद से निर्मोही अणि, निर्वाणी अणि और दिगंबर अणि​ अलग हो जाएंगे. बैरागी अखाड़ा 30 अप्रैल से पहले कुभ समाप्त नहीं करना चाहता.

200 साधुओं की रिपोर्ट आएगी आज



इस बीच खबर है कि जूना अखाड़े के 200 साधुओं का गुरुवार को कोरोना टेस्‍ट हुआ था, ज‍िनकी जांच र‍िपोर्ट शुक्रवार को आने की संभावना है. इसके अलावा हरिद्वार कुंभ को लेकर साधु-संतों की सर्वोच्च संस्था अखाड़ा परिषद की आज यानी शुक्रवार को बैठक हो सकती है, जिसमें कुंभ जारी रखने या न रखने पर फैसला हो सकता है. इस बात के संकेत अखाड़ा परिषद के महामंत्री हरी गिरी ने दी है. महामंत्री हरि गिरी के मुताबिक, सभी अखाड़ों से बात कर इस पर फैसला होगा. अखाड़ों की बैठक वर्चुअल माध्यम से होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज