Haridwar Kumbh 2021: गंगा स्नान करेंगी देव डोलियां, उत्तराखंड में होंगे चारों धाम के दर्शन

उत्तराखंड के चारों धामों के दर्शन भी श्रद्धालु कर सकेंगे.

उत्तराखंड के चारों धामों के दर्शन भी श्रद्धालु कर सकेंगे.

हरिद्वार कुंभ 2021: उत्तराखंड के संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज (Satpal Maharaj) ने कहा कि सभी देव डोलियां हरिद्वार में गंगा स्नान भी करेंगी. श्रद्धालुओं को चार के दर्शन  होंगे. 

  • Share this:

हरिद्वार. हरिद्वार महाकुंभ मेले में उत्तराखंड के चारों धामों के दर्शन भी श्रद्धालु कर सकेंगे. चारों धामों की देव डोलियां हरिद्वार में गंगा स्नान करेंगी. देव डालियों के आगमन की तैयारी शुरू हो गई है. हरिद्वार के प्रेमनगर आश्रम में भगवान बद्रीनाथ और भगवान हनुमान की धर्मध्वजा की स्थापना की गई. देवभूमि संस्कृति विरासतीय शोभायात्रा समिति द्वारा आयोजित कार्यक्रम में उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज, उनकी पत्नी अमृता रावत और आईजी कुम्भ संजय गुंज्याल समेत बड़ी संख्या में साधु संत भी शामिल हुए.

धर्मध्वजा स्थापना कार्यक्रम में उत्तराखंड की लोककला और संस्कृति की झलक भी देखने को मिली. गढ़वाली परिधान और गढ़वाली वाद्य यंत्रों ने कार्यक्रम की शोभा बढ़ा दी. गढवाली कलाकारों द्वारा ढोल, दमाऊं, रणसिंघा और मास्क बीन जैसे वाघ यंत्र बजाए जा रहे थे जिन्होंने उत्तराखंड की लोककला की छठा बिखेर दी.

गंगा स्नान करेंगी देव डोलियां

उत्तराखंड के संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने बताया कि 25 अप्रैल को हरिद्वार में उत्तराखंड की देव संस्कृति और राज्य के सभी देवी देवताओं की झलक देखने को मिलेगी. उसी दिन सभी देव डोलियां हरिद्वार में गंगा स्नान भी करेंगी. सतपाल महाराज ने कहा कि पिछले साल कोरोना के कारण जो लोग चार धाम के दर्शन नहीं कर सके उन लोगों को  चार धामों से आई देव डोलियों के दर्शन हरिद्वार में होंगे.
ये भी पढ़ें: संपत्ति क्षतिपूर्ति विधेयक: कुमारी शैलजा को ऐतराज, बोलीं- किसान आंदोलन को खत्म करने की कोशिश

संदेश देने की कोशिश

कार्यक्रम के आयोजकों ने बताया कि इस कार्यक्रम के माध्यम से वो यही संदेश देना चाहते है विश्व में सबसे महान देव संस्कृति का प्रचार प्रसार हो. विश्व मे शांति और हमारा देश विश्वशक्ति बने. इसके साथ ही वो चाहते है कि उत्तराखंड में तीर्थाटन के साथ ही आय के स्रोत में वृद्धि हो.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज