Uttarakhand: कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव तो ही मिल रही है कुंभ मेले में एंट्री, नहीं तो...

मुंबई में कोरोना नियमों का तेजी से उल्लंघन हो रहा है.

मुंबई में कोरोना नियमों का तेजी से उल्लंघन हो रहा है.

हरिद्वार कुंभ मेले की गुरुवार से शुरुआत हो गई, कमिश्नर गढ़वाल मंडल रविनाथ रमन ने हरिद्वार रेलवे स्टेशन पर महाकुंभ के दृष्टिगत यात्री सुविधाओं और कोविड जांच की व्यवस्थाएं जांचीं. श्रद्धालुओं को RTPCR रिपोर्ट निगेटिव होने पर ही मेले में एंट्री मिलेगी.

  • Last Updated: April 2, 2021, 12:57 AM IST
  • Share this:
हरिद्वार. हरिद्वार कुंभ मेले (Haridwar Kumbh) की गुरुवार से शुरुआत हो गयी है, पहले दिन रेलवे स्टेशन से लेकर बस अड्डे पर चेकिंग अभियान किया गया. कमिश्नर गढ़वाल मंडल रविनाथ रमन ने बृहस्पतिवार को हरिद्वार रेलवे स्टेशन पर महाकुंभ को देखते हुए यात्री सुविधाओं और कोविड जांच की व्यवस्थाएं जांची. साथ ही नारसन बार्डर, रूड़की बस स्टेशन और रेलवे स्टेशन पहुंचकर बाहरी राज्यों से हरिद्वार आने वालों की कोविड जांच, अन्य सुविधाओं का जायजा लिया. बता दें कि श्रद्धालुओं को मेले में एंट्री RTPCR रिपोर्ट निगेटिव दिखाने पर ही मिलेगी.

कमिश्नर ने स्टेशन पहुंचकर वहां पर हर दिन आने वाले यात्रियों की संख्या की जानकारी ली. स्टेशन अधीक्षक ने गढ़वाल आयुक्त को बताया कि लगभग 10 हजार यात्री प्रतिदिन आते हैं, इस पर कमिश्नर ने यात्रियों के RTPCR जांच रिपोर्ट लेकर आ रहे हैं या नहीं. इस पर स्टेशन अधीक्षक ने बताया कि सभी यात्री रिपोर्ट लेकर नहीं आ रहे हैं. मंडलायुक्त ने स्पष्ट निर्देश दिये कि यह सुनिश्चित कर लिया जाये कि हर हाल में यात्री 72 घंटे  पहले की RTPCR निगेटिव जांच रिपोर्ट लेकर आए और मेडिकल प्रमाणपत्र लेकर ही आएं. मंडलायुक्त ने यह भी निर्देश दिये कि अगर यात्रियों ने काफी पहले टिकट बुक कराया है तो यात्रा प्रारम्भ करने वाले स्टेशन पर आरटीपीसीआर जांच की कोविड निगेटिव रिपोर्ट होने पर ही ट्रेन में बैठने दिया जाए.

अगर फिर भी कोई यात्री बिना कोविड निगेटिव रिपोर्ट के रेलवे स्टेशन पर आ जाता है, तो उसकी कोविड जांच कराकर निगेटिव होने पर ही मेला क्षेत्र में आने दिया जाए. उन्होंने हरिद्वार रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की सुविधाओं, यात्री निवास, पेयजल, शौचालय और कोविड टीकाकरण कक्ष में जांच के इंतजाम के अलावा पुरूष-महिला प्रतीक्षालय भी देखा. प्रतीक्षालय में पीने के पानी की समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिये.

मंडलायुक्त इसके बाद जिलाधिकारी सी रविशंकर और ज्वाइंट मजिस्ट्रेट रूड़की नमामि बंसल से बसों और निजी बसों व अन्य वाहनों से आने वाले यात्रियों का पंजीकरण, RTPCR जांच, COVID 19 निगेटिव रिपोर्ट और मेडिकल सर्टिफिकेट आदि के जांच की व्यवस्था की जानकारी ली. उन्होंने किसी यात्री के कोविड पाॅजिटिव मिलने पर क्या व्यवस्थाएं की गई हैं. कमिश्नर ने नारसन बाॅर्डर के पास आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट लाने सम्बन्धी सूचना का बोर्ड लागाने के निर्देश दिए. जहां पर उन्होंने कोविड टेस्टिंग के काउंटर बढ़ाने, किसी के पाॅजिटिव आने पर उनके लिये आइसोलेशन रूम बनाने आदि के निर्देश दिये. उन्होंने बस स्टेशन परिसर में पांच और मोबाइल शौचालय लगवाने के निर्देश भी दिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज