Home /News /uttarakhand /

Mahant Narendra Giri Successor : हरिद्वार के निरंजनी अखाड़े ने लगाई मुहर, महंत बलबीर गिरि की चादरपोशी 5 को

Mahant Narendra Giri Successor : हरिद्वार के निरंजनी अखाड़े ने लगाई मुहर, महंत बलबीर गिरि की चादरपोशी 5 को

महंत बलबीर गिरि. (File Photo)

महंत बलबीर गिरि. (File Photo)

Narendra Giri Last Rites : प्रयागराज स्थित मठ में पहले ही बलबीर गिरि के नाम पर सहमति बन चुकी थी. अब हरिद्वार में बाघंबरी मठ के उत्तराधिकारी के रूप में बलबीर को मठ के पूरे अधिकार नहीं दिए जाने की बात कही गई. अहम फैसलों के लिए एक बोर्ड बनाया गया.

अधिक पढ़ें ...

    हरिद्वार. अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत के बाद उनके उत्तराधिकारी के रूप में महंत बलबीर गिरि के नाम पर अंतिम मुहर लग गई. हरिद्वार में पंचायती निरंजनी अखाड़े में गुरुवार को हुई महत्वपूर्ण बैठक के बाद यह घोषणा की गई कि प्रयागराज स्थित बाघंबरी मठ के प्रमुख के रूप में महंत बलबीर उत्तराधिकार ग्रहण करेंगे. इस घोषणा के बाद अब बलबीर गिरि के पट्टाभिषेक और चादरपोशी की रस्म आगामी 5 अक्टूबर को संपन्न की जाएगी. इसी दिन महंत नरेंद्र गिरि के षोडशी संस्कार का आयोजन भी किया जाएगा. बड़ी बात यह भी है कि मठ की संपत्तियों के संबंध में महंत बलबीर गिरि को पूरे अधिकार नहीं दिए गए बल्कि इसके लिए अखाड़े ने एक बोर्ड का गठन कर दिया.

    संतों की बैठक के लिए प्रयागराज से हरिद्वार पहुंचे निरंजनी अखाड़े के सचिव रविंद्र पुरी ने इस बात की पुष्टि की. खबरों की मानें तो पुरी ने कहा, ‘हरिद्वार में महंतों, श्रीमहंतों और अखाड़े के अन्य सदस्यों ने मिलकर प्रयागराज के संतों को विश्वास में लेते हुए बलबीर के नाम पर सहमति ज़ाहिर की. यह पूरी औपचारिकता इसलिए भी की गई क्योंकि महंत नरेंद्र गिरि ने इस तरह की इच्छा ज़ाहिर की थी.’

    ये भी पढ़ें : Char Dham Yatra : केदारनाथ धाम जाना चाह रहे हैं, तो न बनाएं प्लान, 15 अक्टूबर तक फुल हुई ई-पास बुकिंग

    निरंजनी अखाड़े ने किया बड़ा ऐलान
    प्रयागराज में महंत बलबीर गिरि के नाम पर मुहर लगने के बाद हरिद्वार के संतों के साथ बैठक के बाद निरंजनी अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर कैलाशानंद गिरि ने औपचारिक घोषणा की. इस घोषणा के बाद बलबीर 5 अक्टूबर को महंत नरेंद्र गिरि की गद्दी संभालेंगे. कैलाशानंद गिरि ने कहा, ‘नए महंत के रूप में नियमित कामकाज की ज़िम्मेदारी बलबीर गिरि संभालेंगे, जबकि अहम मामलों में फैसले का अधिकार अखाड़े के सचिवों की परामर्श समिति के पांच सदस्यों के पास ही रहेगा.’

    ये भी पढ़ें : लुटेरों के पीछे हरिद्वार पहुंची ​हरियाणा पुलिस, गिरफ्त में आए अपराधी ने चलाई गोली, पुलिसकर्मी की मौत

    हंगामेदार रहा हरिद्वार के लिए गुरुवार
    गुरुवार को अखाड़े की बड़ी बैठक चलती रही तो दूसरी तरफ, महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत के मामले में आरोपी आनंद गिरि को प्रयागराज से हरिद्वार लाया गया था. सीबीआई टीम ने आनंद के आश्रम से लैपटॉप, वीडियो फुटेज आदि महत्वपूर्ण चीज़ें बरामद कीं. दोपहर तक आनंद को लेकर सीबीआई टीम प्रयागराज लौट गई. उधर, 11 बजे के बाद अखाड़े में बैठक शुरू हुई और बलबीर गिरि के नाम पर राज़ीनामा हुआ. बलबीर के खिलाफ कुछ केस चलने के सवाल पर पुरी और कैलाशानंद गिरि दोनों ने कहा कि आरोप सही पाए गए तो उनके खिलाफ एक्शन लिया जाएगा.

    Tags: Haridwar, Mahant Narendra Giri Death Case, Mahant Narendra Giri Successor, Niranjani Akhara, Uttarakhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर