24 घंटे के अंदर मिले 4 तेंदुओं के शव, ज़हर देकर मारने का शक़

ऋषिकेश के राजाजी टाइगर रिजर्व और शिवालिक वन क्षेत्र में एक ही दिन में 4 तेंदुओं के शव मिलने से हड़कंप मच गया है.

News18 Uttarakhand
Updated: August 3, 2019, 9:12 AM IST
24 घंटे के अंदर मिले 4 तेंदुओं के शव, ज़हर देकर मारने का शक़
ऋषिकेश: एक दिन में मिले चार तेंदुए के शव, जहर देकर मारने की आशंका (फाइल फोटो)
News18 Uttarakhand
Updated: August 3, 2019, 9:12 AM IST
उत्तराखंड के ऋषिकेश में एक दिन में 4 तेंदुए के शव मिलने से हड़कंप मच गया है. शुक्रवार 2 अगस्त को ऋषिकेश के राजाजी टाइगर रिजर्व और शिवालिक वन क्षेत्र में 4 तेंदुओं के शव पाए गए. इनमें से 3 तेंदुओं के शव मात्र एक किलोमीटर के दायरे में पड़े हुए मिले थे.

तीन मादा और एक नर तेंदुए का शव बरामद

इधर, संबंधित मामले में राजाजी टाइगर रिजर्व के निदेशक प्रसन्न कुमार पात्रो का कहना है कि टाइगर रिजर्व के एक किलोमीटर के दायरे में तीन तेंदुए के शवों की बरामदगी हुई थी. वहीं इस तरह तेंदुओं की मौत की परिस्थितियों को लेकर अब भी संदेह बना हुआ है. पात्रो ने कहा कि राजाजी टाइगर रिजर्व में मृत मिले तेंदुओं में से दो मादा और एक नर है. वहीं मिली जानकारी के मुताबिक देहरादून वन प्रभाग के लालपानी क्षेत्र से बरामद हुआ चौथा तेंदुआ भी मादा ही है.

तेंदुआ-leopard
लैंसडाउन वन प्रभाग की लालढांग रेंज में मिले शव (फाइल फोटो)


लैंसडाउन वन प्रभाग की लालढांग रेंज में मिले शव

राजाजी टाइगर रिजर्व के निदेशक ने बताया कि ये शव लैंसडाउन वन प्रभाग की लालढांग रेंज में मिले हैं, जो राजाजी टाइगर रिजर्व की रवासन रेंज और हरिद्वार वन प्रभाग की चिडियापुर रेंज के बीच में है. पात्रो ने कहा कि क्षेत्र में खोजी कुत्तों की मदद से खोजबीन अभियान भी चलाया गया, लेकिन कोई सफलता हाथ नहीं लगी.

जहर देकर मारने की आशंका
Loading...

इधर, वन अधिकारी ने कहा कि बाहर से देखने पर सभी तेंदुए ठीक दिखाई दे रहे थे, लेकिन शवों के पोस्टमार्टम से पता चला है कि उनके शरीर में कई परेशानियां थीं. उन्होंने कहा कि पहली बार देखने में ऐसा लगता है कि उन्हें कोई बहुत भीषण जहर दिया गया है, जिससे उनकी मौत हो गई.

ये भी पढ़ें:- अरुण मोहन जोशी बने देहरादून के SSP, लेकिन 6 महीने ही रहेंगे 

हलाला नहीं ज़रूरी... तलाक़ के बाद फिर शादी का है रास्ता!
First published: August 3, 2019, 8:58 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...