अपना शहर चुनें

States

Kumbh Mela Haridwar 2021: जानें हरिद्वार महाकुंभ में कब होंगे चार शाही स्नान

कोरोना संकट के बीच महाकुंभ 2021 (Kumbh Mela Haridwar 2021) के लिए हरिद्वार को तैयार किया जा रहा है.
कोरोना संकट के बीच महाकुंभ 2021 (Kumbh Mela Haridwar 2021) के लिए हरिद्वार को तैयार किया जा रहा है.

Kumbh Mela Haridwar 2021: माघ पूर्णिमा पर 27 फरवरी से कुंभ मेले की शुरुआत होगी. 20 फरवरी के आसपास इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा. कुंभ मेला की अवधि दो माह होगी. 27 अपै्रल तक चलने वाले कुंभ के दौरान चार शाही स्नान होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 20, 2021, 11:52 AM IST
  • Share this:
हरिद्वार. कोरोना संकट के बीच महाकुंभ 2021 (Kumbh Mela Haridwar 2021) के लिए आध्यात्मिक राजधानी हरिद्वार को तैयार किया जा रहा है. हरिद्वार में करोड़ों रुपये की लागत से कुंभ कार्य हो रहे हैं. अधिकतर कार्य पूरे हो चुके हैं. इस बार कुंभ में चार शाही और छह मुख्य स्नान होंगे. कुंभ मेला का आयोजन 12 साल बाद होता है, लेकिन साल 2022 में बृहस्पति कुंभ राशि में नहीं होंगे. इसलिए इस बार 11वें साल यानि कि एक साल पहले ही महाकुंभ पर्व का आयोजन किया जा रहा है.

माघ पूर्णिमा पर 27 फरवरी से कुंभ मेले की शुरुआत होगी. 20 फरवरी के आसपास इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा. कुंभ मेला की अवधि दो माह होगी. 27 अपै्रल तक चलने वाले कुंभ के दौरान चार शाही स्नान होंगे.

हरिद्वार कुंभ 2021 शाही स्नान की तिथियां:


पहला शाही स्नान 11 मार्च 2021, शिवरात्रि के दिन पड़ेगा.
दूसरा शाही स्नान 12 अप्रैल 2021, सोमवती अमावस्या के दिन पड़ेगा.
तीसरा शाही स्नान 14 अप्रैल 2021, मेष संक्रांति पर पड़ेगा.


चौथा शाही स्नान 27 अप्रैल 2021, को बैसाख पूर्णिमा के दिन पड़ेगा.

महाकुंभ में शामिल होंगे 13 अखाड़े


इस बार महाकुंभ में 13 अखाड़े शामिल होंगे. प्रत्येक अखाड़े की ओर से कुंभ के दौरान झांकियां निकाली जाती हैं, जिसमें नागा बाबा आगे चलते हैं, और उनके पीछे महंत, मंडलेश्वर, महामंडलेश्वर और आचार्य महामंडलेश्वर चलते हैं. कुंभ स्नान का विशेष महत्व है. लोग अपने पूर्वजों का पिंडदान भी करते हैं.

15 हजार विशेष पुलिस अधिकारियों की होगी तैनाती

हरिद्वार कुंभ मेले में श्रद्धालुओं और मेला पुलिस की मदद के लिए 15 हजार विशेष पुलिस अधिकारियों (एसपीओ) की तैनाती की जाएगी. इन्हें मेला क्षेत्र में तैनात किया जाएगा. इनकी ड्यूटी राउंड-द-क्लॉक रहेगी. मेला क्षेत्र में शांति व्यवस्था बनाए रखने में अहम योगदान देंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज