Home /News /uttarakhand /

old couple filled case against son and daughter in law for not having offspring

OMG! संतान पैदा नहीं की तो बुजुर्ग माता-पिता ने कर दिया बेटे-बहू पर केस, परवरिश में लगा पैसा मांगा वापस

बुजुर्ग दंपति ने बेटे के लालन-पालन और उसकी शिक्षा में खर्च हुए करीब 5 करोड रुपये वापस मांगे हैं.

बुजुर्ग दंपति ने बेटे के लालन-पालन और उसकी शिक्षा में खर्च हुए करीब 5 करोड रुपये वापस मांगे हैं.

हरिद्वार के इस दंपति ने अपने बेटे की परवरिश में खर्च हुए करीब 5 करोड़ रुपये बहू और बेटे से वापस दिलाने के लिए कोर्ट से गुहार लगाई है. उनका कहना है कि बेटे को इतना काबिल बनाने के बाद भी अगर उन्हें बुढ़ापे के दिनों में अकेले जीवन गुजारना पड़ रहा है तो ये उनके साथ प्रताड़ना के समान है.

अधिक पढ़ें ...

पुलकित शुक्ला

हरिद्वार. समाज में खून के रिश्तों के बीच प्रॉपर्टी को लेकर अक्सर वाद विवाद की खबरें सामने आती रहती हैं, लेकिन हरिद्वार में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है, जिसमें पोता-पोती का सुख ना देने पर वृद्ध माता-पिता ने अपने बेटे और बहू पर कोर्ट में केस कर दिया है. हरिद्वार की तृतीय एसीजे एसडी कोर्ट में दायर किए गए वाद में वादियों ने बेटे के लालन-पालन और उसकी शिक्षा में खर्च हुए करीब 5 करोड़ रुपये वापस मांगे हैं.

बुजुर्ग दंपति के वकील अरविंद कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि संजीव रंजन प्रसाद बीएचईएल में अधिकारी पद पर कार्यरत थे. रिटायरमेंट के बाद वे अपनी पत्नी साधना प्रसाद के साथ एक हाउसिंग सोसाइटी में रहते हैं. दंपति ने अपने इकलौते बेटे श्रेय सागर की शादी साल 2016 में नोएडा की शुभांगी सिन्हा से की थी. श्रेय सागर पायलट है, जबकि उसकी पत्नी शुभांगी भी नोएडा में जॉब करती हैं. बुजुर्ग दंपत्ति ने कोर्ट में प्रार्थना पत्र देकर बताया कि शादी के 6 साल बाद भी उनका बेटा और बहू संतान पैदा नहीं कर रहे हैं, जिससे उन्हें काफी मानसिक वेदना से गुजरना पड़ रहा है.

परवरिश में खर्च हुआ पैसा मांगा वापस
यूं तो माता-पिता अपनी संतान की परवरिश के लिए अपनी पूरी जमा पूंजी लगा देते हैं, लेकिन हरिद्वार के इस दंपति ने अपने बेटे की परवरिश में खर्च हुए करीब 5 करोड़ रुपये बहू और बेटे से वापस दिलाने के लिए कोर्ट से गुहार लगाई है. उनका कहना है कि बेटे को इतना काबिल बनाने के बाद भी अगर उन्हें बुढ़ापे के दिनों में अकेले जीवन गुजारना पड़ रहा है तो ये उनके साथ प्रताड़ना के समान है. बुजुर्ग दंपति की प्रार्थना पत्र पर कोर्ट में केस दर्ज कर लिया गया है. मामले की अगली सुनवाई के लिए 17 मई की तारीख तय की गई है.

Tags: Haridwar news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर