लाइव टीवी

गजब... रुड़की उप कारागार में तैनात बन्दीरक्षक पहुंच गए व्यापारी से फिरौती मांगने
Haridwar News in Hindi

Manoj Juyal | News18 Uttarakhand
Updated: May 20, 2020, 5:59 PM IST
गजब... रुड़की उप कारागार में तैनात बन्दीरक्षक पहुंच गए व्यापारी से फिरौती मांगने
रुड़की उप कारागार से पहले भी रंगदारी मांगी गई है.

जेल में बन्द अपराधी के इशारे में मांग रहे थे दोनों फिरौती

  • Share this:
रुड़की. जेल में बंद बदमाशों द्वारा रंगदारी मांगने, धमकाने के केस दुनिया भर में होते हैं लेकिन रुड़की में अपनी तरह का पहला मामला सामने आया है. यहां जेल में ही तैनात दो बंदीरक्षक रुड़की के एक व्यापारी से रंगदारी मांगने पहुंच गए. इस विचित्र मामले में जेल प्रशासन की होने के बाद पुलिस ने दोनों बंदीरक्षकों को गिरफ़्तार कर लिया है. मज़ेदार बात यह भी है कि ये दोनों एक ऐसे कैदी के नाम पर रंगदारी मांगने पहुंचे थे जो जेल में इन्हीं के साथियों के साथ पहले मारपीट कर चुका है.

जेल से रंगदारी

रुड़की उप कारागार अक्सर गलत वजहों से चर्चा में रहता है. यहां 2011 में जेलर हत्याकांड हो चुका है तो 2014 में जेल के बाहर गैंगवार भी हुई थी. जेल से रंगदारी मांगने के मामले भी रुड़की जेल से होते रहे हैं. जेल में बंद बदमाशों ने 2018 में एक डॉक्टर से 50 लाख रुपये की रंगदारी थी. इसी जेल से बदमाशों ने एक डेयरी संचालक से 25 लाख की रंगदारी मांगी थी.



लेकिन ताज़ा मामला एकदम अलग है. रुड़की उप कारागार के दो बन्दीरक्षक एक व्यापारी के पास पहुंच गए और जेल में बंद बदमाश के नाम पर फिरौती की मांग करने लगे. ख़ास बात यह है कि इस बदमाश ने 17 अगस्त 2019 में एक जेल में तैनात बन्दी रक्षक पर जानलेवा हमला किया था. वह उसके बाद से जेल में बन्द है.



जेल प्रशासन की भूमिका 

व्यापारी ने सिविल लाइन कोतवाली में दोनों बंदीरक्षकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवा दिया जिसके बाद पुलिस ने दोनोंबन्दी रक्षकों को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश करने के बाद उन्हें जेल भेज दिया. इस बारे में एसपी देहात स्वपन्न किशोर ने कहा कि दोनों के ख़िलाफ़ धारा 386,120b,506 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है.

उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच की जा रही है. मामले में कोई अन्य व्यक्ति दोषी पाया जाएगा तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी. इस घटना के बाद जेल प्रशासन की भूमिका भी संदिग्ध हो गई है क्योंकि अब मामला फ़ोन पर फिरौती मांगने के बजाय जेलकर्मियों की संलिप्तता तक बढ़ गया है.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हरिद्वार से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 20, 2020, 5:59 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading