Home /News /uttarakhand /

parents filed a case against son and daughter in law said either give grandchildren or five crores nodss

माता-पिता ने बेटे-बहू पर किया केस, कहा- या तो पोता दो या फिर पांच करोड़, जानें क्या है मामला...

दंपती ने बताया कि उन्होंने अपने बच्चे को पढ़ने के लिए अमेरिका भेजा और अपना सबकुछ उसमें लगा दिया.

दंपती ने बताया कि उन्होंने अपने बच्चे को पढ़ने के लिए अमेरिका भेजा और अपना सबकुछ उसमें लगा दिया.

उत्तराखंड के हरिद्वार जिला कोर्ट में दंपती ने दर्ज किया मामला, कहा- बेटे को पढ़ाने के लिए सबकुछ खर्च कर दिया, फिर उसकी शादी भी की लेकिन अब तक न पोता न ही पोती देख सके हैं. बताया कि बैंक से लोन लेकर घर बनाया, अब संकट में हूं.

हरिद्वार. उत्तराखंड में एक अनोखा मामला सामने आया है. यहां पर एक दंपती ने अपने बेटे और बहू पर केस कर दिया है. सुनने में ये आम खबर लगे लेकिन मामला थोड़ा चौंकाने वाला जरूर है. दंपती ने अपने बेटे और बहू से पोते या पोती की मांग की है, ऐसा नहीं करने पर दोनों से ढाई-ढाई करोड़ रुपये का हर्जाना मांगा है. हरिद्वार के कोर्ट में इस संबंध में मुकदमा दायर कर दिया गया है, जिसकी अगली सुनवाई 17 मई को होनी है.
जानकारी के अनुसार मुकदमा करने वाले संजीव रंजन प्रसाद भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड में अधिकारी रह चुके हैं. सेवा निवृत्त होने के बाद वे अपनी पत्नी के साथ रहते हैं. उन्होंने अपने बेटे की शादी 2016 में नोएडा की एक युवती से की थी. उनका बेटा पायलट है और बहू भी नौकरीपेशा है.

ये समाज की सच्चाई
वहीं संजीव के वकील एके श्रीवास्तव ने कहा कि ये मामला समाज की सच्चाई को दिखाता है. लोग अपने बच्चों का भविष्य संवारने के लिए अपना सबकुछ लगा देते हैं और बच्चों की जिम्मेदारी है कि पैरों पर खड़े होने के बाद वे अपने परिजन की मूलभूत सुविधाओं का ध्यान रखें. इस मामले में परिजन ने अपने बेटे बहू से एक साल में या तो पोते या फिर पोती देने को कहा है, ऐसा नहीं होता है तो हर्जाने के तौर पर 5 करोड़ रुपये मांगे गए हैं.

अमेरिका में पढ़ाया
वहीं संजीव का कहना है कि मैंने अपना सबकुछ लगा कर अपने बेटे को अमेर‌िका में पढ़वाया. बैंक से लोन लेकर अपना घर बनवाया. अब मैं वित्तिय और निजी परेशानियों में घिरा हूं. बेटे की शादी को सात साल हो गए हैं, हमें आशा थी कि जल्द ही हम अपने पोते या पोती का चेहरा देखेंगे लेकिन ऐसा नहीं हुआ. हमें इस बात से भी कोई फर्क नहीं पड़ता कि पोता हो या पोती हमें बस परिवार में बच्चा चाहिए. ऐसा नहीं होने पर हमने अपने बेटे और बहू से पांच करोड़ रुपये का हर्जाना मांगा है.

Tags: Haridwar, Uttarakhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर