अपना शहर चुनें

States

राम मंदिर नहीं बना तो लोगों का बीजेपी से विश्‍वास उठ जाएगा: बाबा रामदेव

रामदेव की फाइल फोटो
रामदेव की फाइल फोटो

रामदेव ने कहा कि वर्तमान में बीजेपी उत्‍तर प्रदेश और केंद्र दोनों जगह सत्‍ता में है इसलिए सत्‍ताधारी दल के लिए मंदिर का निर्माण करना जरूरी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2018, 9:17 AM IST
  • Share this:
बाबा रामदेव ने मंगलवार को राम मंदिर के मसले पर बोलते हुए कहा कि मंदिर बनना चाहिए नहीं तो लोगों का बीजेपी से विश्वास उठ जाएगा. उन्‍होंने कहा कि वर्तमान में बीजेपी उत्‍तर प्रदेश और केंद्र दोनों जगह सत्‍ता में है, इसलिए सत्‍ताधारी दल के लिए मंदिर का निर्माण करना जरूरी है.

रामदेव ने राम मंदिर निर्माण के लिए अध्‍यादेश लाने की पैरवी भी की. उन्‍होंने कहा कि कारसेवक मंदिर का निर्माण शुरू नहीं कर सकते हैं, क्‍योंकि यह कोर्ट की अवमानना होगी. इसलिए अध्‍यादेश लाना ही एकमात्र उपाय है.

इससे पहले बाबा रामदेव मंदिर निर्माण की बात उठा चुके हैं. उन्‍होंने कहा था कि यदि सुप्रीम कोर्ट समय पर फैसला नहीं देता है तो संसद में बिल लाना चाहिए. बकौल रामदेव, 'यदि सुप्रीम कोर्ट में जल्‍द फैसला नहीं होता है तो लोकतंत्र में संसद सबसे बड़ी संस्‍था है और बिल लाने में कोई बुराई नहीं है. अयोध्‍या में राम मंदिर नहीं बनेगा तो और क्‍या बनेगा.'



26 साल से कोठरी में बंद एक कारसेवक की दर्दभरी दास्तां...
इससे पहले रविवार को आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने भी जल्‍द से जल्‍द मंदिर निर्माण के लिए आंदोलन छेड़ने का आह्वान किया था. उन्‍होंने कहा था कि धैर्य खत्‍म हो चुका है और मंदिर बनाने के लिए कानून बनाया जाना चाहिए.

बता दें कि हाल ही में राम मंदिर निर्माण की मांग को लेकर विश्व हिंदू परिषद ने अयोध्या में धर्म संसद का आयोजन किया था. वहीं केंद्र और महाराष्ट्र दोनों जगह बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने भी राम मंदिर को लेकर बीजेपी पर दबाव बनाना शुरू कर दिया है. शिवसेना के प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने हाल ही में कहा था, "हमें मस्जिद ढहाने में 17 मिनट लगे थे, तो कानून बनाने में कितना वक्त लगता है?"

धर्म संसद में बोले शंकराचार्य- अयोध्या में कारसेवकों ने बाबरी मस्जिद नहीं राम मंदिर तोड़ा था
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज