Home /News /uttarakhand /

roorkee gang rape case how uttarakhand police arrests five accused rapists from uttar pradesh cities

Roorkee Gang Rape: 250 फुटेज, 200 से पूछताछ, 6 दिन बाद गिरफ्त में आए मां-बेटी से दुष्कर्म करने वाले 5 दरिंदे

हरिद्वार पुलिस ने छह दिनों की मशक्कत के बाद सामूहिक दुष्कर्म के आरोपियों को गिरफ्तार किया.

हरिद्वार पुलिस ने छह दिनों की मशक्कत के बाद सामूहिक दुष्कर्म के आरोपियों को गिरफ्तार किया.

एक नन्ही सी बच्ची और उसकी मां के साथ चलती कार में दुष्कर्म को अंजाम देकर उन्हें अधमरी हालत में फेंककर चले जाने वाले बलात्कारियों को गिरफ्तार करने में पसीने छूट गए. इधर, हरिद्वार ज़िले की ही पुलिस ने एक संत पर हुए हमले के आरोपियों को कुछ ही घंटों में दबोच लिया.

अधिक पढ़ें ...

रुड़की. पुलिस ने छह दिनों की मशक्कत के बाद उन पांच आरोपियों को धर दबोचा है, जिन्होंने 24 जून की रात पिरान कलियर के गंगनहर नहर पटरी पर 6 साल की मासूम बच्ची और उसकी मां के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद उन्हें नहर पटरी पर फेंक दिया था. इन आरोपियों से घटना में प्रत्युक कार, बाइक भी पुलिस ने बरामद की. पकड़े गए आरोपी उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर, देवबंद और उत्तराखंड के रुड़की क्षेत्र के रहने वाले हैं. इधर, अस्पताल में भर्ती पीड़ित मां बेटी की हालत ठीक बताई जा रही है.

गिरफ्तारियों का खुलासा करते हुए एसएसपी योगेंद्र रावत ने हरिद्वार में कहा कि पिछले 5 दिनों से लगातार पुलिस टीमें पड़ताल कर रही थीं. क्षेत्र और आसपास के करीब 250 सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए. 200 से ज़्यादा लोगों से पूछताछ की गई, तब जाकर पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी कर सकी. फिलहाल पूछताछ के साथ ही इनके आपराधिक रिकॉर्ड खंगाले जा रहे हैं. सभी आरोपियों को आज गुरुवार को कोर्ट में पेश कर जेल भेजा जाएगा. वहीं, पीड़िताओं के स्वस्थ होने पर अब उन्हें सीडब्ल्यूसी भेजने पर बातचीत की जाएगी.

पुलिस को मिली राहत की सांस
दरअसल सामूहिक दुष्कर्म के इस मामले पर विपक्षी राजनीतिक पार्टियां दबाव बना रही थीं. कांग्रेस ने सड़क पर उतरकर प्रदर्शन किया था, तो आम आदमी पार्टी के नेता भी अस्पताल पहुंचे थे. यही नहीं, इस मामले में महिला आयोग ने भी जांच बिठाई थी. एक हफ्ते में आरोपियों को गिरफ्तार कर पुलिस ने भी राहत की सांस ली. एसएसपी ने बेहतर काम करने वाली टीम को 25 हजार और रेंज के डीआईजी ने 50 हज़ार के इनाम की घोषणा की है.

संत पर हमले के आरोपी भी गिरफ्त में
दो दिन पहले जूना अखाड़े के संत महाकाल गिरि पर जानलेवा हमले की घटना में भी हरिद्वार पुलिस पर दबाव था. इस मामले में डेढ़ दिन के भीतर दो आरोपियों को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया. दोनों आरोपी यूपी के मुजफ्फरनगर के रहने वाले बताए गए हैं. ये दोनों 2 दिन पहले अखाड़े के कमरों में रुके थे और शराब पीने को लेकर इनका विवाद हुआ था. इसी रंजिश में इन्होंने गिरि पर हमला किया था. फिलहाल घायल संत का अस्पताल में इलाज चल रहा है.

Tags: Gang Rape, Up uttarakhand news live, Uttarakhand Police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर