मातृ सदन को समर्थन देने पहुंच रहे हैं स्वामी शिवानंद के शिष्य, सुरक्षा बहाल करने की मांग

गंगा की निर्मलता और अविरलता की लड़ाई लड़ रहे मातृ सदन के परमाध्यक्ष स्वामी शिवानंद को उनके शिष्यों का समर्थन मिला है.

मातृ सदन के संत गंगा की अविरलता और निर्मलता के लिए आंदोलन करते रहे हैं.

  • Share this:
हरिद्वार. गंगा की निर्मलता और अविरलता की लड़ाई लड़ रहे मातृ सदन के परमाध्यक्ष स्वामी शिवानंद को उनके शिष्यों का समर्थन मिला है. हरिद्वार पुलिस प्रशासन के मातृ सदन आश्रम की सुरक्षा हटाए जाने से नाराज़ स्वामी शिवानंद के शिष्य हरिद्वार पहुंच रहे हैं और अनशन कर रही साध्वी पद्मावती और संत आत्मबोधानंद के अनशन को समर्थन दे रहे हैं. स्वामी शिवानंद के शिष्यों का कहना है कि अगर मातृ सदन की सुरक्षा बहाल नहीं की जाती तो देश-विदेश से आकर लोग इसके विरोध में आंदोलन करेंगे.

सुरक्षा वापस ली 

मातृ सदन के संत गंगा की अविरलता और निर्मलता के लिए आंदोलन करते रहे हैं. स्वामी सानंद या प्रोफ़ेसर जीडी अग्रवाल ने भी यहीं आकर गंगा की अविरलता के लिए आंदोलन किया था. अब भी मातृ सदन की साध्वी पद्मावती और संत आत्मबोधानंद गंगा की अविरता के लिए अनशन कर रहे हैं.

इस सबके बीच राज्य सरकार ने मातृ सदन की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों को वापस बुला लिया. यह सूचना पाकर स्वामी शिवानंद के शिष्य रहे योगेंद्र सिंह मातृ सदन पहुंचे और स्वामी शिवानंद को समर्थन दिया.

गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे 

उन्होंने कहा कि मातृ सदन पर भूमाफ़िया और खनन माफ़िया की नज़र है और वह इसे खत्म करना चाहते हैं. योगेंद्र सिंह ने चेतावनी दी कि अगर जल्द ही राज्य सरकार मातृ सदन आश्रम को पुलिस सुरक्षा प्रदान नहीं करते दो देश-विदेश में काम कर रहे स्वामी शिवानंद के हज़ारों शिष्य उग्र आंदोलन करेंगे.

स्वामी शिवानंद ने एक बार फिर जिला प्रशासन व् पुलिस प्रशासन पर जानबूझकर मातृ सदन की सुरक्षा हटाने का आरोप लगाया और कहा कि यदि उन्हें कुछ होता है तो बाद में सरकार और प्रशासन को इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे.

ये भी देखें: 

अनशन कर रहीं साध्वी पद्मावती को प्रशासन ने ताला तोड़कर मातृ सदन से उठाया, दून में भर्ती

मातृ सदन ने खनन को लेकर फिर से शासन-प्रशासन के खिलाफ खोला मोर्चा

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.