Home /News /uttarakhand /

टोक्यो ओलंपिक: भारतीय हॉकी टीम के प्लेयर सुमित के कोच अब हरिद्वार में तराश रहे खिलाड़ी

टोक्यो ओलंपिक: भारतीय हॉकी टीम के प्लेयर सुमित के कोच अब हरिद्वार में तराश रहे खिलाड़ी

सोनीपत हॉकी प्रशिक्षण केंद्र में वह सोनीपत जिले के कुराड़ गांव निवासी भारतीय हॉकी खिलाड़ी सुमित के कोच रहे चुके हैं. ( फोटो- AFP)

सोनीपत हॉकी प्रशिक्षण केंद्र में वह सोनीपत जिले के कुराड़ गांव निवासी भारतीय हॉकी खिलाड़ी सुमित के कोच रहे चुके हैं. ( फोटो- AFP)

वरुण बेलवाल (Varun Belwal) हरिद्वार के उप जिला क्रीड़ा अधिकारी भी हैं. ये भारतीय खेल प्राधिकरण की तरफ से हॉकी प्रशिक्षण केंद्र सोनीपत में भी हॉकी के कोच रह चुके हैं.

    हरिद्वार. भारतीय हॉकी टीम (Indian Hockey Team) ने 41 साल बाद टोक्यो ओलंपिक में पदक अपने नाम किया है. इस विजेता भारतीय टीम में एक खिलाड़ी सुमित (Sumit) भी हैं, जो हरियाणा के सोनीपत के रहने वाले हैं. उनके कोंच वरुण बेलवाल (Varun Belwal) का कहना है कि उनका उदेश्य सिर्फ सुमीत जैसे खिलाड़ियों को तराशना है, जो इस तरह के खेलों में देश को पदक दिला सकें. फिलहाल, बेलवाल अब हरिद्वार के खिलाड़ियों को तराशने का काम कर रहे हैं. वरुण बेलवाल का कहना है कि वे हरिद्वार से भी हमे सुमित जैसे खिलाड़ी तैयार करना है, जो भारत का नाम रोश कर सकें.

    जानकारी के मुताबिक, वरुण बेलवाल हरिद्वार के उप जिला क्रीड़ा अधिकारी भी हैं. ये भारतीय खेल प्राधिकरण की तरफ से हॉकी प्रशिक्षण केंद्र सोनीपत में भी हॉकी के कोच रह चुके हैं. वरुण ने अगस्त 2016 से अक्तूबर 2018 तक हॉकी खिलाड़ियों को प्रशिक्षण दिया है. उन्होंने 2018 में सोनीपत प्रशिक्षण केंद्र से इस्तीफा देकर हरिद्वार स्पोर्ट्स स्टेडियम में ज्वाइन किया था. उन्होंने सुमित को प्रशिक्षण केंद्र में तैयार करने में अपनी अहम भूमिका निभाई थी. वरुण ने बताया कि दिसंबर 2016 में लखनऊ में हुए जूनियर वर्ल्ड कप में गोल्ड जितने वाली टीम में भी सुमित शामिल थे.

    इसलिए वे मेहनत भी कर रहे हैं
    सोनीपत हॉकी प्रशिक्षण केंद्र में वह सोनीपत जिले के कुराड़ गांव निवासी भारतीय हॉकी खिलाड़ी सुमित के कोच रहे चुके हैं. उप जिला क्रीड़ा अधिकारी वरुण बेलवाल का कहना है कि सुमित हॉफ लाइन और डिफेंस के खिलाड़ी हैं और वह अपनी भूमिका बहुत बेहतर ढंग से निभाते हैं. सीनियर वर्ग में 2017 में बंगलादेश के ढाका में हुए एशिया कप में भी भारतीय टीम ने गोल्ड मेडल जीता था. तब भी सुमित टीम का हिस्सा थे. वरुण बेलवाल का मार्गदर्शन अब हरिद्वार के हॉकी खिलाड़ियों को मिल रहा है. इससे भविष्य में हरिद्वार से भी सुमित जैसे खिलाड़ी निकलने की भी संभावनाएं है. इसलिए वे मेहनत भी कर रहे हैं.

    Tags: Haridwar, Hockey, Uttar pradesh news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर