Kumbh 2021: हरिद्वार कुंभ में कोरोना का खतरा देख केंद्र ने उत्तराखंड सरकार को किया आगाह

11 से 14 अप्रैल तक हरिद्वार रेलवे स्टेशन पर सभी ट्रेनों के स्टापेज को रद्द कर दिया गया. यहां पहुुुंचने वाले यात्रियों को अब हरिद्वार की जगह रुढक़ी, ज्वालापुर और लक्सर रेलवे स्टेशन पर उतार दिया जाएगा.

11 से 14 अप्रैल तक हरिद्वार रेलवे स्टेशन पर सभी ट्रेनों के स्टापेज को रद्द कर दिया गया. यहां पहुुुंचने वाले यात्रियों को अब हरिद्वार की जगह रुढक़ी, ज्वालापुर और लक्सर रेलवे स्टेशन पर उतार दिया जाएगा.

देश के 10-12 राज्यों में कोरोना वायरस संक्रमण की बढ़ती रफ्तार से चिंता में सरकार. हरिद्वार कुंभ मेले में इन प्रदेशों से आने वाले श्रद्धालुओं के मद्देनजर कोरोना जांच बढ़ाने और विशेष निगरानी बरतने का दिया गया निर्देश.

  • Share this:
नई दिल्ली. उत्तराखंड के हरिद्वार में होने वाले महाकुंभ-2021 में कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा है. इस बड़े खतरे को भांपते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने उत्तराखंड सरकार को आगाह किया है. केंद्र सरकार में स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने उत्तराखंड के चीफ सेक्रेटरी को रविवार को चिट्ठी लिखकर सचेत किया कि हरिद्वार कुंभ में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है. जितना टेस्ट हरिद्वार में फिलहाल ही रहा है वो नाकाफी है.

कुंभ मेले को देखते हुए केंद्र सरकार ने उत्तराखंड की बीजेपी सरकार को कई सलाह दी है. केंद्र की तरफ से भेजी गई चिट्ठी में कहा गया है कि कुंभ मेले के दौरान उच्च स्तरीय सेंट्रल टीम के सुझाए गए उपायों को अमल में लाना सुनिश्चित करें. 12 राज्यों से पिछले कुछ वक्त में कोरोना के अच्छे खासे मामले आए हैं. कुंभ में कोरोना प्रभावित राज्यों से भी श्रद्धालु आ सकते हैं. सेंट्रल टीम के मुताबिक रोजाना 10-20 श्रद्धालु और 10-20 आम लोग वहां पॉजिटिव हो रहे हैं.

फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं की हो जांच

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज