होम /न्यूज /उत्तराखंड /ऋषिकेश में आफत की बारिश, खतरे के निशान के करीब पहुंचा गंगा नदी का जलस्तर

ऋषिकेश में आफत की बारिश, खतरे के निशान के करीब पहुंचा गंगा नदी का जलस्तर

पहाड़ों में लगातार बारिश से गंगा और उसकी सहायक नदियों का जलस्तर उफान पर है

पहाड़ों में लगातार बारिश से गंगा और उसकी सहायक नदियों का जलस्तर उफान पर है

गंगा (Ganga River) के बढ़ते जलस्तर के चलते ऋषिकेश (Rishikesh) के प्रमुख घाटों पर पानी ऊपर तक आ गया है. साथ ही हरिद्वार ...अधिक पढ़ें

ऋषिकेश. पहाड़ों पर हो रही बारिश (Heavy Rain) का असर अब गंगा (Ganga River) उसकी सहायक नदियों के जलस्तर पर पड़ने लगा है. ऋषिकेश (Rishikesh) में गंगा नदी खतरे के निशाने के करीब बह रही है. यहां गंगा के घाट जलमग्न होने लगे हैं जिससे मैदानी क्षेत्रों में खतरा बढ़ गया है. पहाड़ों पर लगातार हो रही बारिश से गंगा सहित उसकी सहायक बरसाती नदी-नालों में उफान के स्थिति पैदा हो गई है. आलम यह है कि देहरादून (Dehradun) और ऋषिकेश व आसपास के क्षेत्रों में सभी बरसाती नदियां उफान पर हैं. इसका सीधा असर गंगा के जलस्तर पर पड़ना शुरू हो गया है.

गंगा के बढ़ते जलस्तर के चलते ऋषिकेश के प्रमुख घाटों पर पानी ऊपर तक आ गया है. साथ ही हरिद्वार सहित मैदानी इलाकों में गंगा के बढ़े जलस्तर की वजह से तटीय इलाकों पर रहने वाले लोगों के लिए मुसीबत खड़ी हो गई है. सोमवार सुबह से हो रही बारिश से टपकेश्वर में तमसा नदी डोईवाला, ऋषिकेश में सुसवा नदी और सॉन्ग नदी उफान पर है. इन नदियों के उफान का पानी गंगा में जा कर मिल रहा है जिसके चलते मैदानी इलाकों में हालात बिगड़ने की स्थिति बन जाएगी.

हालांकि प्रशासन सारी स्थितियों पर नजर बनाए हुए है. लोगों से गंगा के बढ़ते जलस्तर में स्नान ना करने और तटों पर रहने वाले लोगों से सुरक्षित स्थानों पर चले जाने की लगातार अपील की जा रही है.

Tags: Ganga river, Heavy rain fall, Rishikesh news, Uttarakhand news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें