Home /News /uttarakhand /

नौकरानी की संदिग्ध स्थिति में मौत, सर्वेंट रूम में मिला शव

नौकरानी की संदिग्ध स्थिति में मौत, सर्वेंट रूम में मिला शव

डॉक्टर के घर में काम करने वाली 21 साल की युवती की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई, हालांकि पुलिस मामले को आत्माहत्या बता रही है. पुलिस को उस वक्त जानकारी दी गई थी जब युवती अपने सर्वेंट रूम में पंखे से लटकी हुई पाई गई, पुलिस में मामले की जांच शुरू कर दी है.

डॉक्टर के घर में काम करने वाली 21 साल की युवती की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई, हालांकि पुलिस मामले को आत्माहत्या बता रही है. पुलिस को उस वक्त जानकारी दी गई थी जब युवती अपने सर्वेंट रूम में पंखे से लटकी हुई पाई गई, पुलिस में मामले की जांच शुरू कर दी है.

डॉक्टर के घर में काम करने वाली 21 साल की युवती की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई, हालांकि पुलिस मामले को आत्माहत्या बता रही है. पुलिस को उस वक्त जानकारी दी गई थी जब युवती अपने सर्वेंट रूम में पंखे से लटकी हुई पाई गई, पुलिस में मामले की जांच शुरू कर दी है.

अधिक पढ़ें ...
डॉक्टर के घर में काम करने वाली 21 साल की युवती की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई, हालांकि पुलिस मामले को आत्माहत्या बता रही है. पुलिस को उस वक्त जानकारी दी गई थी जब युवती अपने सर्वेंट रूम में पंखे से लटकी हुई पाई गई, पुलिस में मामले की जांच शुरू कर दी है.

देहरादून के डालनवाला थाना क्षेत्र के मुनिसिपल रोड स्थित डॉक्टर के मकान में पिछले पांच महिनों से काम करने वाली सलोनी नाम की युवती अपने सर्वेंट रूम में पंखे से लटकी पाई गई, घर में काम करने वाले अन्य कर्मचारियों ने ही इस बात की जानकारी घर के मालिक डॉक्टर को दी थी.

पुलिस भी सूचना पाकर मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया. जानकारी दी गई है कि असम की रहने वाली 21 साल की सलोनी पिछले पांच महिनों से इसी घर में काम कर रही थी.

दिल्ली की एक प्लेसमेंट कंपनी के जरिए नौकरी दिलाई गई थी. सलोनी की एक और बहन भी देहरादून में ही काम करती है. वहीं, घर के मालिक और डॉक्टर का कहना है कि घर में पांच नौकर है और कभी किसी भी तरह की कोई बात सामने नहीं आई थी, जिसकी वजह से इस तरह की कोई घटना होने का अंदेशा होता.

सलोनी को नौकरी दिलाने वाला प्लेसमेंट कंपनी संचालक को भी मौके पर बुलाकर पुछताछ की गई है. संचालक ने बताया है कि सोनिया की बुआ से उसकी पहचान थी और इसी जरिए सलोनी को नौकरी दिलाई गई थी.

पुलिस का कहना है कि मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है और पुलिस घटना को आत्माहत्या ही मान कर चल रही है, फिर भी पुलिस अधिकारियों का कहना है कि शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है और रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की वजह साफ हो पाएगी.

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर