आंध्रप्रदेश के 22 बच्चे नैनीताल में कोरोना पॉजिटिव, कई राज्यों से होकर आए थे; मचा हड़कंप

अब बच्चों (Children) में भी कोरोना संक्रमण के स्पष्ट लक्षण दिखने लगे हैं.

अब बच्चों (Children) में भी कोरोना संक्रमण के स्पष्ट लक्षण दिखने लगे हैं.

ये सभी बच्चे आंध्र प्रदेश के हैं और साइकिल यात्रा के लिए नैनीताल पहुंचे थे. पिछले 2 दिनों से ये भीमताल के आश्रम में रुके थे. इन 24 छात्रों में से 20 की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. 4 बच्चों की आरटीपीसीआर रिपोर्ट जांच के लिये भेजी गई है.

  • Share this:
नैनीताल. नैनीताल में एक साथ 20 बच्चों के कोरोना पॉजिटिव आने से हड़कंप मच गया है. ये सभी बच्चे आंध्र प्रदेश के हैं और साइकिल यात्रा के लिए नैनीताल पहुंचे थे. पिछले 2 दिनों से ये भीमताल के आश्रम में रुके थे. इन 24 छात्रों में से 20 की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. 4 बच्चों की आरटीपीसीआर रिपोर्ट जांच के लिये भेजी गई है. हांलाकि इन बच्चों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद सभी बच्चों को कोविड केयर सेंटर में आईसोलेट कर दिया गया है.

कई राज्यों से होकर निकले ये बच्चे

दरअसल, 6 फरवरी को ये बच्चे आंध्र प्रदेश के प्रकासूम जिले के श्रीसिहने गांव से निकले थे. आदिवासी समुदाय से ताल्लुक रखते हैं. इन बच्चों के पास कपड़े और जूते चप्पल भी नहीं हैं. आज इन बच्चों में बुखार के बाद इन सभी को बीडी पाण्डे जिला अस्पताल में जांच के लिये लेकर आए थे, तो सभी का रैपिड एंटिजन टेस्ट कराया गया था. इस रिपोर्ट में 20 बच्चों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई और 4 की आरटीपीसीआर रिपोर्ट भेजी गई है. इन बच्चों की उम्र 7 साल से लेकर 22 साल तक है. ये भीमताल के किसी आश्रम में रुके हुए थे.

नैनीताल के भीमताल पहुंचे से पहले ये मध्यप्रदेश, राजस्थान, महाराष्ट्र यूपी के कई शहरों से होकर निकले हैं. नैनीताल जिला अस्पताल के सीएमएस के एस धामी ने बताया कि रेपिड़ टेस्ट में पॉजिटिव आने के बाद इन सभी को सूखाताल में कोविड सेंटर में भर्ती कर दिया गया है और 4 बच्चों की आरटीपीसीआर रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है. रिपोर्ट आने तक डाक्टरों की देखरेख में बच्चों को रखा गया है. साथ ही बच्चों के लिये अन्य जरूरी सामाग्री की भी प्रशासन के साथ मिलकर व्यवस्था की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज