लाइव टीवी

शाम होते ही अंधेरा पसर जाता है नैनीताल की सड़कों पर... यहां अपनी सुरक्षा, अपने हाथ
Nainital News in Hindi

Virendra Bisht | News18 Uttarakhand
Updated: December 27, 2019, 11:39 AM IST
शाम होते ही अंधेरा पसर जाता है नैनीताल की सड़कों पर... यहां अपनी सुरक्षा, अपने हाथ
शाम ढलते ही नैनीताल के चौराहे अंधकारमय हो जाते हैं. नैनीताल शहर के चौराहों पर लगी लाइटें शोपीस बनी हुई हैं.

फड़ कारोबारियों और दुकानदारों की लाइट बंद होने के बाद सामने से भी कोई गुजर जाए, पहचान करना संभव नहीं.

  • Share this:
नैनीताल. सरोवर नगरी नैनीताल (lake city nainital) यूं तो वीवीआईपी शहर है और यहां हाईकोर्ट (high court), कुमाऊं कमिश्नरी (kumaon Commissioner),एटीआई (ATI) जैसे बड़े संस्थान हैं मगर शहर अंधकार में है. आने वाले दिनों में नैनीताल में नए साल (New Year Celebrations) पर बड़े आयोजन होने हैं जिनमें शामिल होने के लिए बड़ी संख्या में देसी-विदेशी पर्यटक पहुंचने शुरु हो चुके हैं. लेकिन इस बात का जवाब किसी के पास नहीं है कि अंधेरी सड़कों पर कोई वारदात न हो जाए यह सुनिश्चित करने के इंतज़ाम क्या हैं?

सभासद ने कहा ज़िला, प्रशासन ज़िम्मेदार

शाम ढलते ही नैनीताल के चौराहे अंधकारमय हो जाते हैं. नैनीताल शहर के चौराहों पर लगी लाइटें शोपीस बनी हुई हैं. तल्लीताल हो चाहे मल्लीताल चौराहा या फिर मस्जिद चौराहा, हर जगह पर ऐसा ही अंधकार छाया है. अंधेरे ने शहर के चौक चौराहों को इस कदर घेरा है कि फड़ कारोबारियों और दुकानदारों की लाइट बंद होने के बाद सामने से भी कोई गुजर जाए, पहचान करना संभव नहीं.

कई समय से बंद पड़ी शहर की लाइटों के लिए नैनीताल नगर पालिका के सभासद ज़िला प्रशासन को दोषी ठहरा रहे हैं. सभासद मनोज जगाती कहते हैं कि ज़िला प्रशासन की लापरवाही की वजह से शहर में चारों ओर अंधेरा है और इसकी वजह से यहां आने वाले पर्यटक खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं.



अपनी सुरक्षा खुद करें

शहर की हाई मास्क लाइट बंद है तो सड़क और पंत पार्क के किनारे लगी स्ट्रीट लाइट का भी बुरा हाल है. शहर के वार्डों में भी काफ़ी समय से बत्ती गुल है. पुलिस की सतर्कता के दावों और सीसीटीवी लगने के बावजूद चीना बाबा चौराहे से लेकर पंत पार्क की लाइटों की सार्वजनिक सम्पत्ति की बैट्री चोर ले उड़े.

ज़िला विकास प्राधिकरण और पालिका की बंद लाइटों पर डीएम सविन बंसल से सवाल किया गया तो वह नैनीताल बिजली विभाग को निर्देश देने की बात करते नज़र आए.

बहरहाल जो हालत नैनीताल के हैं अगर आप नैनीताल आ रहे हैं तो अपनी सुरक्षा की जिम्मेदारी खुद करके आएं क्योंकि अगर कोई आपके पास से चोरी करके भाग भी गया तो प्रशासन के दिए अधंकार के बीच टॉर्च के उजाले में शायद ही उसे खोजा जा सके.

ये भी देखें: 

क्षमता से कई गुना गाड़ियां पहुंच रही हैं नैनीताल, जाम तो लगेगा ही

VIDEO : नैनीताल में बारिश और ओलावृष्टि से मौसम हुआ सुहाना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नैनीताल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 27, 2019, 11:36 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर