Home /News /uttarakhand /

नैनीताल: पहाड़ों में पाई जाती है एपिस सेरेना इंडिका मधुमक्खी, जानिए इसके शहद की खासियत

नैनीताल: पहाड़ों में पाई जाती है एपिस सेरेना इंडिका मधुमक्खी, जानिए इसके शहद की खासियत

X

एपिस सेरेना इंडिका मधुमक्खी खोखली जगहों जैसे- मिट्टी के घरों में छत्ता बनाकर रहना पसंद करती हैं.

    शहद मानव जीवन के लिए अमृत के समान है. इसका निर्माण करने वाली मधुमक्खियां अनेक प्रकार की होती हैं. इनमें पर्वतीय क्षेत्रों में छोटी प्रजाति की मधुमक्खी पाई जाती है, जिसे एपिस सेरेना इंडिका के नाम से जाना जाता है. राज्य में इसे मौन पालन उद्योग के रूप में रोजगार के साथ जोड़ा जाता है.

    बरसात के मौसम में पर्याप्त भोजन न मिलने से छत्तों में मौमी कीड़ा लग जाता है, जिसकी वजह से यह घर छोड़ कर भाग जाती हैं. यह प्रजाति ज्यादा माइग्रेट (एक क्षेत्र से दूसरे क्षेत्र में जाना) पसंद नहीं करती है. करीब 22 साल से इस क्षेत्र में काम कर रहे मनोज बताते हैं कि भारत में 5 प्रजाति की मधुमक्खियां पाई जाती हैं. इनमें से एपिस सेरेना इंडिका ही पहाड़ों क्षेत्रों में पाई जाती है. पुराने समय से ही यह मधुमक्खी खोखली जगहों जैसे- मिट्टी के घरों में छत्ता बनाकर रहना पसंद करती हैं. इन घरों की खासियत है कि ये जाड़ों में गर्म और गर्मियों में ठंडे रहते हैं. साथ ही इन छत्तों में बीमारी भी कम लगती है.

    Tags: Nainital news, नैनीताल

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर