लाइव टीवी

वन विभाग की रेंजर व कर्मचारियों ने की युवक की बेरहमी से पिटाई, मामला दर्ज

Virendra Bisht | News18 Uttarakhand
Updated: November 9, 2019, 8:28 AM IST
वन विभाग की रेंजर व कर्मचारियों ने की युवक की बेरहमी से पिटाई, मामला दर्ज
वन विभाग के चुंगल से बचकर निकले युवक ने न्याय की लगाई गुहार

नैनीताल (Nainital) जिले में वन विभाग (Forest Department) की रेंजर और कर्मचारियों ने तस्करी का आरोप लगाकर युवक की बेरहमी से जमकर पिटाई (Beating) की.

  • Share this:
नैनीताल. उत्तराखंड (Uttarakhand) के नैनीताल (Nainital) जिले में वन विभाग (Forest Department) ने तस्करी के शक (Doubt) के आधार पर पिथौरागढ़ (Pithoragarh) में धारचूला पंचायत के बूंदी निवासी भाष्कर बुदियाल की जमकर पिटाई (Beating) कर दी. वन विभाग की रेंजर तनुजा परिहार व उनके कर्मचारियों ने युवक को इस कदर पीटा है कि उसके पूरे शरीर पर चोट (injury) के निशान साफ दिख रहे हैं.

पूरा मामला 

घायल युवक ने बताया कि वह घूमने के लिए पंगूट (pangot) इलाके में गया था. वहां उसे वन विभाग ने 2 दिनों तक कैद में रखकर उसकी जमकर पिटाई की और उसके नाखून तक उखाड़ दिए. युवक ने वन विभाग पर आरोप (Allegation) लगाया है कि उसको तब तक पीटा गया जब तक वो बेहोश नहीं हो गया. युवक का आरोप है कि वन विभाग जबरन उसे ये कबूल करने को कह रहे थे कि वो तस्करी करता है.

5 हजार रुपए जुर्माना लेने के बाज युवक को छोड़ गया

घायल युवक भाष्कर बुदियाल ने कहा कि 2 दिनों तक वन विभाग की रेंजर और कर्मचारी उसे घूमाते रहे और मारते रहे हैं. इस दौरान जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल करते हुए युवक के साथ गाली गलौज तक की गई. युवक ने कहा कि उसको तब छोड़ा गया है जब उससे लिखित तौर पर लिया गया कि उसके साथ कोई मारपीट नहीं हुई है और उससे 5 हजार रुपए का जुर्माना भी काटा गया है.

बहरहाल, वन विभाग के चुंगल से बचकर निकले युवक ने पट्टी पटवारी से न्याय की गुहार लगाई है.

ये भी पढ़ें:- CM, नेता प्रतिपक्ष समेत ज़्यादातर MLA ने नहीं दिया अपनी संपत्ति का ब्यौरा
Loading...

ये भी पढ़ें:- 'उपभोक्ताओं पर बढ़ी बिजली दरों का बोझ और कर्मचारियों को मुफ़्त बिजली क्यों'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नैनीताल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 9, 2019, 8:28 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...