उत्तराखंड HC के चीफ जस्टिस बोले- कोई मुझे भी गोली मार दे तो वकील केस लड़ने से इनकार नहीं कर सकते

चीफ जस्टिस ने का, यहां तक कि कसाब को भी अदालत में प्रतिनिधित्व से वंचित नहीं किया गया था.

Virendra Bisht | News18 Uttarakhand
Updated: June 13, 2019, 5:06 PM IST
उत्तराखंड HC के चीफ जस्टिस बोले- कोई मुझे भी गोली मार दे तो वकील केस लड़ने से इनकार नहीं कर सकते
नैनीताल हाईकोर्ट ने वकीलों के किसी अभियुक्त का केस न लड़ने के फ़ैसले पर नाराज़गी जताई है.
Virendra Bisht | News18 Uttarakhand
Updated: June 13, 2019, 5:06 PM IST
उत्तराखण्ड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस ने एक याचिका पर सुनवाई के दौरान कहा कि अगर कोई मुझे भी गोली मारता है तो भी आप अदालत में आरोपी का प्रतिनिधित्व करने से इनकार नहीं कर सकते. यहां तक कि कसाब को भी अदालत में प्रतिनिधित्व से वंचित नहीं किया गया था. चीफ़ जस्टिस ने यह टिप्पणी कोटद्वार में एक वकील की हत्या के आरोपी का केस लड़ने से वकीलों के इनकार किए जाने के विरोध में दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए की.

यह था मामला 



2017 में कोटद्वार में अधिवक्ता सुशील रघुवंशी की हत्या कर दी गई थी, जिसमें पुलिस ने 6 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जेल भेजा था. कोटद्वार बार एसोसिएशन ने आरोपियों का केस न लड़ने का प्रस्ताव पास कर दिया था. आरोपी कुलदीप अग्रवाल की भी जमानत याचिका कोर्ट में सुनवाई के लिए आई तो उसका भी अधिवक्ताओं ने विरोध किया. अधिवक्ताओं द्वारा पारित प्रस्ताव को गलत बताते हुए कुलदीप अग्रवाल ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है.

VIDEO: वकील को दिनदहाड़े गोली मारकर फरार हुए बदमाश, CCTV में कैद

आज हाईकोर्ट ने पूरे मामले पर नाराजगी जताते हुए कोटद्वार बार एसोसिएशन को नोटिस जारी किया है. इसके साथ ही बार काउंसिल ऑफ़ इंडिया, उत्तराखण्ड बार काउंसिल को भी जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है.

वकीलों को अधिकार नहीं

याचिकाकर्ता के वकील कार्तिकेय हरि गुप्ता कहते हैं कि नैनीताल हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट ने कई बार आदेश पारित किए हैं कि किसी भी अभियुक्त को अपना पक्ष रखने का अधिकार होता है. उन्होंने कहा कि अदालत बार काउंसिल के ऐसा प्रस्ताव पारित करने से काफ़ी नाराज़ थी. किसी भी आरोपी को मुकदमे की सुनवाई के बाद अदालत दोषी करार देती है. वकीलों को ऐसा करने का कोई अधिकार नहीं है और न ही वह इससे इनकार कर सकते हैं.
Loading...

राज्य आंदोलनकारियों के हक़ की लड़ाई अब लड़ेंगे हाईकोर्ट के वकील, बनाया संगठन

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...