हर तीन घंटे में करें हरिद्वार में गंगा के घाटों की सफ़ाईः हाईकोर्ट

हरिद्वार के नरेन्द्र ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल कर कहा था कि गंगा के घाटों की सफ़ाई नियमित नहीं होने से गंदगी फैल रही है और गंगा में गन्दगी जाने से गंगा जी में प्रदूषण फैल रहा है.

News18 Uttarakhand
Updated: September 11, 2018, 5:38 PM IST
हर तीन घंटे में करें हरिद्वार में गंगा के घाटों की सफ़ाईः हाईकोर्ट
नैनीताल हाईकोर्ट (फ़ाइल फ़ोटो)
News18 Uttarakhand
Updated: September 11, 2018, 5:38 PM IST
उत्तराखण्ड हाईकोर्ट ने हरिद्वार में गंगा के घाटों की हर तीन घंटे में सफाई करने के आदेश जारी किए हैं. हाईकोर्ट की खण्डपीठ ने डीएम हरिद्वार को इसके लिए नोडल अधिकारी बनाया गया है. कोर्ट ने उत्तराखण्ड और उत्तर प्रदेश के सिंचाई विभाग के साथ जल संस्थान को भी निर्देश दिए हैं कि गंगा की साफ सफ़ाई के लिए ठोस कदम उठाएं.

सुनवाई के दौरान पूर्व में दिए आदेशों की जानकारी के दौरान नगर निगम हरिद्वार ने बताया कि सीसीटीवी को घाटों में लगाया जा रहा है तो चेंजिंग रुम का निर्माण कार्य भी जारी है. हाईकोर्ट की खण्डपीठ ने सुनवाई के बाद निर्देश दिए कि जो भी गंदे नाले व सीवर लाइन गंगा में गिर रहे हैं उन पर रोक लगाई जाए ताकि गंगा की निर्मलता बनी रहे.

बता दें कि हरिद्वार के नरेन्द्र ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल कर कहा था कि गंगा के घाटों की सफ़ाई नियमित नहीं होने से गंदगी फैल रही है और गंगा में गन्दगी जाने से गंगा जी में प्रदूषण फैल रहा है. कोर्ट में आज कोर्ट कमिश्नर ने अपनी रिपोर्ट पेश की जिसके बाद कोर्ट ने गंगा घाटों को साफ़ व स्वच्छ रखने के आदेश दिए हैं.

(वीरेंद्र बिष्ट की रिपोर्ट)

सब जानवर अब विधिक व्यक्ति... हाईकोर्ट ने तय की काम की शर्तें, दिया स्वास्थ्य का अधिकार

सभी ज़िलों से नैनीताल तक पहुंचे बस, न्याय पाना सबका अधिकारः हाईकोर्ट
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर