Covid-19 Update: कुमाऊं में संक्रमितों के इलाज के लिए बनी तीन स्टेज की ये प्लानिंग
Dehradun News in Hindi

Covid-19 Update: कुमाऊं में संक्रमितों के इलाज के लिए बनी तीन स्टेज की ये प्लानिंग
लाॉकडाउन में राहत मिलने के बाद कोरोना के मामले राष्ट्रीय राजधानी में तेजी से बढ़े हैं.

कुमाऊं (Kumaon) में कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) को अब सीधे बड़े हॉस्पिटल में भर्ती नहीं कराया जाएगा. इसके लिए तीन स्तर पर एक प्लानिंग तैयार की गई है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
हल्द्वानी (उत्तराखंड). कुमाऊं में कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) को अब सीधे बड़े हॉस्पिटल में भर्ती नहीं कराया जाएगा. बल्कि मरीजों को पहले कोविड केयर सेंटर (Covid Care Centre) में भर्ती कराया जाएगा. इन मरीजों की केयर सेंटर में इलाज और देखभाल होगी. कोविड हॉस्पिटल सुशीला तिवारी में जरूरत पड़ने या हालत गंभीर होने पर ही मरीज को भर्ती किया जाएगा. हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. सीपी भैसोड़ा के मुताबिक प्रदेश सरकार ने ये निर्णय लिया है कि जिले अपने मरीजों का इलाज खुद करेंगे. केवल हालात गंभीर होने पर ही उन्हें कुमाऊं (Kumaon) के सबसे बड़े कोविड हॉस्पिटल सुशीला तिवारी लाया जाएगा. ऐसा निर्णय इसलिए किया गया ताकि गंभीर रोगियों के लिए हॉस्पिटल  खाली रहे. अभी तक कुमाऊं के ज्यादातर मरीजों का इलाज इसी हॉस्पिटल में किया जा रहा है.

डीएम नैनीताल ने जारी किए निर्देश
डीएम नैनीताल सविन बंसल के मुताबिक केंद्र सरकार के जारी दिशा- निर्देशो के अनुसार इस तरह का निर्णय लिया गया है. उन्होंने बताया कि कोविड-19 के पॉजिटिव मरीजों के इलाज के लिए हॉस्पिटलों की त्रिस्तरीय व्यवस्था की गई है. जिसमें प्रथम स्तर पर कोविड केयर सेंटर, द्वितीय स्तर पर डेडिकेटेड कोविड ​हेल्थ सेंटर और तीसरे स्तर पर डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल चिन्हित किए गए है.
जिलाधिकारी सविन बंसल ने मुख्य चिकित्साधिकारी और प्राचार्य एसटीएच हल्द्वानी को निर्देश दिए कि वे कोरोना पॉजिटिव मरीजों से इलाज हेतु चिन्हित जनपद में त्रिस्तरीय चिकित्सालयों में चिकित्सा सुविधाएं एवं इलाज की सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करते हुए संचालित कराने के निर्देश दिए हैं. ताकि भारत सरकार के निर्देश व मानकों के अनुसार कोविड- 19 पॉजिटिव मरीजों का इलाज किया जा सके.



इस तरह होगा संक्रमितों का इलाज
डीएम बंसल ने बताया कि डेडिकेटेड कोविड केयर हेल्थ सेन्टर में बहुत हल्के मामले तथा कोविड संदिग्ध मामले का उपचार किया जायेगा तथा डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेन्टर में clinically assigned as moderate case भर्ती किए जाएंगे और डेडिकेटेड कोविड चिकित्सालय में कोरोना के गंभीर मामलों का उपचार किया जाएगा. ​



700 के पार पहुंचा कोरोना का आंकड़ा
प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 727 पर पहुंच गया है. जिसमें सबसे ज्यादा केस नैनीताल जिले के हैं. नैनीताल से 222 कोरोना के मरीज सामने आ चुके हैं. इसके अलावा कुमाऊं मंडल के पांच जिलों ऊधम सिंह नगर में 62, अल्मोड़ा में 45, पिथौरागढ़ में 21, बागेश्वर में 16, चंपावत में 8 मामले सामने आ चुके हैं. जबकि गढ़वाल मंडल में राजधानी देहरादून में मरीजों का आंकड़ा 153, चमोली में 11, हरिद्वार में 48, पौड़ी गढ़वाल में 28, रुद्रप्रयाग में 5, टिहरी गढ़वाल में 74, उत्तरकाशी में 14 और प्राइवेट लैब्स में 20 मामले सामने आ चुके हैं. 727 मरीजों में से 102 मरीज ठीक होकर के घर जा चुके हैं. यहां पांच मरीजों की मौत हो चुकी है.

 

ये भी पढ़ें:

उत्तराखंड के मंत्री की पत्नी निकली कोरोना पॉजिटिव, सरकारी आवास किया गया सील
First published: May 31, 2020, 7:05 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading